होम /न्यूज /खेल /ईशान किशन ‘हिट या मिस’ खिलाड़ी नहीं, उनका समय आएगा: पूर्व कोच उत्तम मजूमदार

ईशान किशन ‘हिट या मिस’ खिलाड़ी नहीं, उनका समय आएगा: पूर्व कोच उत्तम मजूमदार

ईशान किशन ने पिछले दो सीजन में मुंबई इंडियंस की तरफ से बेहतरीन प्रदर्शन किया है. इस विकेटकीपर बल्लेबाज को इस वजह से भारतीय टी20 टीम का हिस्सा बनने का मौका भी मिला. किशन बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज हैं. केएल राहुल के साथ उनकी जोड़ी जम सकती है.  (PIC: AP)

ईशान किशन ने पिछले दो सीजन में मुंबई इंडियंस की तरफ से बेहतरीन प्रदर्शन किया है. इस विकेटकीपर बल्लेबाज को इस वजह से भारतीय टी20 टीम का हिस्सा बनने का मौका भी मिला. किशन बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज हैं. केएल राहुल के साथ उनकी जोड़ी जम सकती है. (PIC: AP)

झारखंड के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन (Ishan Kishan) को टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) में न्यूजीलैंड के खिल ...अधिक पढ़ें

    रांची. टी20 विश्व कप (T20 World Cup) में न्यूजीलैंड के खिलाफ विफलता के बाद ईशान किशन (Ishan Kishan) को ‘हिट या मिस’ (बड़ा शॉट मारने या आउट हो जाने वाला) खिलाड़ी बताया गया था. युवा विकेटकीपर बल्लेबाज किशन के पूर्व कोच का हालांकि मानना है कि वह अगले कुछ वर्षों में भारत की सीमित ओवरों की टीम में एक अहम सदस्य बन सकते हैं. हाल ही में टी20 विश्व कप के अपने शुरुआती मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से 10 विकेट से हार का सामना करने के बाद भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ रोहित शर्मा के स्थान पर ईशान से पारी का आगाज कराया.

    बाएं हाथ का यह युवा बल्लेबाज उस मैच में बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में जल्दी आउट हो गया. भारतीय बल्लेबाजी क्रम में बदलाव की आलोचना करते हुए पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर ने ईशान को ‘हिट-या-मिस खिलाड़ी’ करार दिया था. ईशान के बचपन के कोच उत्तम मजूमदार के अनुसार, इस 23 वर्षीय के लिए अभी कुछ भी खत्म नहीं हुआ है. उन्होंने कहा, ‘वह (ईशान) एक उपयोगी खिलाड़ी हैं, जो छोटे फॉर्मेट के लिए सबसे उपयुक्त हैं. वह पारी का आगाज कर सकते हैं, एक फिनिशर की भूमिका निभा सकते हैं. वह बहुत फुर्तीला और शानदार फील्डर हैं.’

    इसे भी पढ़ें, रिकी पॉन्टिंग को भारत के हेड कोच का पद हुआ था ऑफर, खुद किया खुलासा

    बिहार के पूर्व अंडर-22 क्रिकेटर मजूमदार ने ईशान की प्रतिभा को तब पहचाना था, जब वह महज 7 साल के थे. उन्होंने कहा, ‘किसी भी खिलाड़ी को असफलता का सामना करना पड़ सकता है.  यह दुर्भाग्यपूर्ण रहा कि वह बड़े मैच में आउट हो गए लेकिन अगर टीम की यह रणनीति सफल हो जाती तो वह रातों-रात स्टार बन जाते.’

    उन्होंने विश्व कप से पहले ईशान के फॉर्म की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘जिस तरह से उन्होंने पिछली 3 पारियों में बल्लेबाजी की थी, उसे देखते हुए और मौके (विश्व कप में) मिलने चाहिए थे.’ ईशान ने विश्व कप से पहले आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) में नाबाद 50 और 84 रन की पारी खेलने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में नाबाद 70 रन बनाए थे.

    इसे भी देखें, धोनी के ‘घर’ में दमदार है टीम इंडिया का रिकॉर्ड, न्यूजीलैंड की हार पक्की!

    मजूमदार ने कहा, ‘ईशान नैसर्गिक खिलाड़ी हैं और बड़े शॉट खेलने से नहीं डरते. उस दिन उन्हें विशेष रूप से पावरप्ले में बड़ा शॉट खेलने के लिए भेजा गया था लेकिन दुर्भाग्य से वह उनका दिन नहीं था. किशन को हालांकि और भी कई मौके मिलेंगे.’ उन्होंने कहा कि राहुल द्रविड़ के कोच बनने के बाद ईशान को ज्यादा मौके मिलना चाहिए.

    मजूमदार ने कहा, ‘द्रविड़ सर (राहुल द्रविड़) उन्हें अच्छे से जानते हैं क्योंकि ईशान 2016 अंडर -19 विश्व कप के लिए टीम के कप्तान बने थे.  वह भारत ‘ए’ का भी नेतृत्व कर चुके हैं.  लगातार दो विश्व कप से उसके लिए काफी उम्मीदें हैं. अभी तो उन्होंने शुरुआत की है.’

    Tags: Cricket news, Icc T20 world cup, India vs new zealand, Ishan kishan, Rahul Dravid, T20 World Cup 2021

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें