• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IT ALL COMES DOWN TO MENTAL STRENGTH IN EVENTS LIKE OLYMPIC ANGAD VIR SINGH BAJWA

ओलंपिक जैसे इवेंट में मानसिक मजबूती ही सबसे अहम होती है: अंगद सिंह बाजवा

अंगर वीर सिंह बाजवा वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुके हैं. (India AllSports Twitter)

ओलंपिक (Tokyo Olympic) शुरू होने में दो महीने का समय बचा है. अंगद वीर सिंह बाजवा (Angad Vir Singh Bajwa) इस समय इटली में ट्रेनिंग कर रहे हैं. 15 शूटर्स ने क्वालिफाई किया है. ओलंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से शुरू होने हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. ओलंपिक (Tokyo olympic)  के लिए क्वालिफाई कर चुके भारतीय स्कीट निशानेबाज अंगद वीर सिंह बाजवा (Angad Vir Singh Bajwa) का मानना है कि वह जब बेहद दबाव वाले टोक्यो खेलों की निशानेबाजी रेंज पर उतरेंगे, तो सब कुछ मानसिक मजबूती पर निर्भर करेगा. अंगद तोक्यो में मेराज अहमद खान के साथ स्कीट निशानेबाजी स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. ओलंपिक के मुकाबले 23 जुलाई से शुरू होने हैं.

    भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) की ओर से पोस्ट वीडियो में ओलंपिक की तैयारी के बारे में पूछे जाने पर अंगद सिंह बाजवा ने कहा, ‘ओलंपिक जैसी प्रतियोगिताओं में सब कुछ इस पर निर्भर करता है कि आप मानसिक रूप से कितने मजबूत हैं और आप दबाव में कैसा प्रदर्शन करते हैं.’ अधिकतर निशानेबाजों की तरह अंगद ने भी इतने बड़े टूर्नामेंट में जाने से पहले मनोवैज्ञानिक और मानसिक ट्रेनर की भूमिका पर जोर दिया.



    एशियन चैंपियनशिप में जीता था गोल्ड

    उन्होंने कहा, ‘काफी चीजें जुड़ी हुई हैं और मनोवैज्ञानिक का होना बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि एकाग्र चित्त और धैर्यवान रहने के लिए आपको उनके मार्गदर्शन की जरूरत होती है.’ अंगद ने 2019 में दोहा में एशियन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन की बदौलत टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया, जहां उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था. वे अपने पहले ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करने को बेताब हैं.

    वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुके हैं अंगद

    उन्होंने कहा, ‘हम ओलंपिक के लिए तैयार हैं और हमारा लक्ष्य अपना सर्वश्रेष्ठ देना है. उम्मीद करते हैं कि हम अधिक से अधिक पदक जीतकर भारत को गौरवांवित करेंगे.’ अंगद ने 2018 एशियाई शॉटगन चैंपियनशिप के फाइनल में 60 में से 60 का परफेक्ट स्कोर बनाकर स्कीट फाइनल का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था. अंगद और मेराज फिलहाल इटली में ट्रेनिंग कर रहे हैं, जबकि टोक्यो जाने वाले 13 राइफल और पिस्टल निशानेबाज पड़ोसी देश क्रोएशिया में ट्रेनिंग और प्रतियोगिता में हिस्सा ले रहे हैं. कोविड- 19 महामारी के कारण पिछले साल स्थगित किए गए टोक्यो ओलंपिक का आयोजन 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच किया जाएगा.