जेमिमा का भावुक पोस्ट, लिखा- हम हर उस लड़की के लिए खेल रहे हैं जो क्रिकेट खेलना चाहती है

जेमिमा रोड्रिग्स ने अब तक अपने करियर में 19 वनडे और 47 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. (Twitter)

जेमिमा रोड्रिग्स ने अब तक अपने करियर में 19 वनडे और 47 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. (Twitter)

20 साल की स्टार महिला बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स (Jemimah Rodrigues) ने उम्मीद जताई कि मौजूदा दौर की खिलाड़ी भविष्य की पीढ़ियों के लिए टीम को बेहतर स्थिति में छोड़ेंगी. उन्होंने कहा कि बड़ी जिम्मेदारी उन लोगों का सम्मान करना है जो उनसे पहले रहे और जो उनके बाद इस विरासत को संभालेंगे.

  • Share this:

मुंबई. भारत की स्टार  क्रिकेटर जेमिमा रोड्रिग्स (Jemimah Rodrigues) ने महिला क्रिकेट को वर्तमान स्थिति में पहुंचाने के लिए पिछली पीढ़ी का आभार व्यक्त किया है. उन्होंने साथ ही कहा कि अब उनकी जिम्मेदारी भावी पीढ़ी के लिए और बेहतर मंच तैयार करना है. जेमिमा ने इंग्लैंड के आगामी दौरे के लिए टीम की सफेद जर्सी (टेस्ट मैच के लिए) के अनावरण के बाद एक भावुक संदेश दिया. मिताली राज की कप्तानी में टीम सात वर्षों में पहली बार टेस्ट मैच खेलेगी.

यह पोशाक मुंबई में खिलाड़ियों को सौंपी गयी जहां टीम अभी आइसोलेशन पर है. 20 साल की जेमिमा ने इस मौके पर कहा कि मुख्य कोच रमेश पवार (Ramesh Powar) ने उन्हें भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विरासत से अवगत कराया. जेमिमा ने इंस्टाग्राम पर अपनी पोस्ट में लिखा, 'रमेश सर ने आज हमें टीम बैठक के लिए बुलाया और हमें भारत में महिला क्रिकेट की विरासत से अवगत कराया. इसकी शुरुआत कहां से हुई थी और हम यहां तक कैसे पहुंचे, हमसे पहले की उन खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने आज हम जो कुछ हैं उसे संभव बनाया.’

उन्होंने कहा, 'उन खिलाड़ियों ने जिन्होंने बिना किसी पहचान के यह काम किया जिन्होंने भारत में महिला क्रिकेट को पहचान दिलाई.’ इस बल्लेबाज ने कहा कि शीर्ष क्रिकेटर झूलन गोस्वामी और मिताली राज ने भी अपने अनुभव साझे किए. ये दोनों खिलाड़ी लंबे समय से टीम में बनी हुई हैं.



जेमिमा ने कहा, 'इसके बाद भारतीय महिला क्रिकेट की दो दिग्गज मिठु (Mithali Raj) दी और झुलू (Jhulan Goswami) दी आईं और उन्होंने पूरी टीम के साथ यह बात साझा की कि उनके लिए क्रिकेट क्या मायने रखता है और इस विरासत का हिस्सा बनना कितना बड़ा सम्मान है.’ जेमिमा ने उम्मीद जताई कि वे भविष्य की पीढ़ियों के लिए टीम को बेहतर स्थिति में छोड़ेंगी.

उन्होंने कहा, 'बैठक इस खूबसूरत उद्धरण के साथ समाप्त हुई कि हमारी सबसे बड़ी जिम्मेदारी उन लोगों का सम्मान करना है जो हमसे पहले रहे हैं और जो हमारे बाद इस विरासत को संभालेंगे.’ भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट खेलने के बाद तीन वनडे और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज खेलेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज