धोनी के जिस बैट से निकला था वर्ल्ड कप 2011 में जीत का शॉट, वह 72 लाख रुपये में बिका

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 38 साल के हो गए हैं. उनके जन्मदिन पर याद करते हैं उनके क्रिकेट करियर की कुछ दिलचस्प बातें..

News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 9:07 AM IST
धोनी के जिस बैट से निकला था वर्ल्ड कप 2011 में जीत का शॉट, वह 72 लाख रुपये में बिका
क्रिकेट के किसी फॉर्मेट का ऐसा कोई रिकॉर्ड नहीं है जो टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान एमएस धोनी के नाम न हो.
News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 9:07 AM IST
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने वर्ल्ड कप 2011 श्रीलंका के खिलाफ फाइनल मुकाबले में जिस बैट से जीत का छक्का लगाया था, वह 72 लाख रुपये में नीलाम हुआ था. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 38 साल के हो गए हैं. वह भारत के 251वें टेस्ट, 157वें वनडे और दूसरे टी20 खिलाड़ी हैं. उन्हें टीम इंडिया का सबसे सफल कप्तान माना जाता है. उन्होंने टीम को कई यादगार पल दिए हैं. उनके जन्मदिन पर याद करते हैं उनके क्रिकेट करियर की कुछ दिलचस्प बातें..

धोनी ने जनवरी, 2006 में पाकिस्तान के फैसलाबाद में अपना पहला टेस्ट शतक जड़ा था. यह किसी भी भारतीय विकेटकीपर की टेस्ट में खेली गई सबसे तेज शतकीय पारी रही. धोनी की ही कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का भारतीय रिकॉर्ड बनाया. 2009 में श्रीलंका के भारत दौरे के दौरान टीम इंडिया ने 9 विकेट पर 726 रन (पारी घोषित) बनाए थे.

Birthday Special MS Dhoni - जन्मदिन विशेष : एमएस धोनी
धोनी वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल मुकाबले में विजयी शॉट लगाते हुए.


7वें नंबर पर बैटिंग कर ठोक डाला शतक

एमएस धोनी दुनिया में अकेले ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने वनडे में 7वें नंबर पर बैटिंग कर शतक जमाया. उन्होंने यह शतक दिसंबर 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ जड़ा था. झारखंड की ओर से धोनी पहले खिलाड़ी थे, जिन्हें टीम इंडिया में जगह मिली. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ वनडे और टेस्ट करियर में अपना पहला शतक ठोका था. साल 2005-2006 में जमाए इन दोनों फॉर्मेट में धोनी ने 148-148 रन बनाए.

एमएस धोनी दुनिया में अकेले ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने वनडे में 7वें नंबर पर बैटिंग कर शतक जमाया.


ऑस्ट्रेलिया को 320 रन के अंतर से हराया
Loading...

धोनी की कप्तानी में भारत ने टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया को 21 अक्टूबर, 2008 को 320 रनों के अंतर से हराया था. यह टेस्ट में रनों के लिहाज से भारत की यह सबसे बड़ी जीत है. धोनी के नाम टेस्ट क्रिकेट में बतौर विकेटकीपर-कप्तान सबसे ज्यादा स्टंपिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. वह टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल विकेटकीपर हैं. टीम इंडिया को 2 वर्ल्ड कप और एक चैंपियंस ट्रॉफी दिलवाने वाले महेंद्र सिंह धोनी के नाम विदेशी धरती पर सबसे असफल भारतीय कप्तान होने का दाग भी है. धोनी की कप्तानी में भारत विदेश में 11 मैच हारा है.

भारत को वनडे, टी20 और चैंपियंस ट्रॉफी जिताई
जून, 2007 में महेंद्र सिंह धोनी ने एशिया एकादश की ओर से खेलते हुए अफ्रीका एकादश के खिलाफ श्रीलंका के महेला जयवर्धने के साथ छठे विकेट के लिए 218 रनों की साझेदारी की जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है. दोनों ने इस साझेदारी में शतक भी ठोके. एमएस धोनी ने अपनी कप्तानी में भारत को वनडे विश्व कप, वर्ल्ड टी20 और चैंपियंस ट्रॉफी में जीत दिलाई. वह सबसे ज्यादा टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच (98) खेलने वाले भारतीय खिलाड़ी हैं. धोनी 300 वनडे खेलने वाले सिर्फ छठे भारतीय खिलाड़ी हैं.

सबसे ज्यादा टेस्ट, वनडे और टी20 जिताने वाले कप्तान
माही के नाम सबसे ज्यादा 332 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कप्तानी का रिकॉर्ड भी दर्ज है. भारत की तरफ से सबसे ज्यादा टेस्ट (60), वनडे (200) और टी20 (72) अंतरराष्ट्रीय मैचों में कप्तानी का रिकॉर्ड उनके नाम है. साथ ही धोनी भारत की तरफ से सबसे ज्यादा टेस्ट (27), वनडे (110) और टी20 अंतरराष्ट्रीय (41) मैच जीतने वाले कप्तान भी हैं. उन्होंने वनडे में 10000 से ज्यादा बनाए हैं. यह रिकॉर्ड भारत से सिर्फ पांच और विश्व के सिर्फ 13 बल्लेबाजों के नाम दर्ज है.

माही के नाम अंतरराष्ट्रीय टी-20 और वनडे मैच में सबसे ज्यादा बार स्टंपिंग का रिकॉर्ड है.


विकेटकीपर बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर  का वर्ल्ड रिकॉर्ड
वनडे में किसी भी विकेटकीपर बल्लेबाज के सर्वाधिक स्कोर का विश्व रिकॉर्ड उनके ही नाम है. उन्होंने 2005 में श्रीलंका के खिलाफ जयपुर में नाबाद 183 की शानदार पारी खेली थी. माही ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा 193 बार खिलाड़ियों को स्टंप किया है. उनके नाम टी20 अंतरराष्ट्रीय में भी सबसे ज्यादा 34 बार स्टंपिंग का रिकॉर्ड है. वनडे में सबसे ज्यादा 121 बार स्टंपिंग का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम दर्ज है. इसके अलावा टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में विकेटकीपर के सबसे ज्यादा 91 (57 कैच एवं 34 स्टंपिंग) शिकार का विश्व रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है.

भारत की ओर से वनडे में 225 छक्के जड़े
माही एक बार क्रीज पर जम जाएं तो उन्हें आउट करना नामुमकिन जैसा हो जाता है. वह वनडे में सबसे ज्यादा 82 बार नॉट आउट रहने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने भारत की ओर से वनडे में सबसे ज्यादा 225 छक्के लगाए हैं. यही नहीं उन्होंने वनडे में सबसे ज्यादा 9 बार छक्के लगाकर टीम इंडिया को मैच जिताए हैं. इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किसी भी कप्तान द्वारा सबसे ज्यादा 204 छक्के लगाने का विश्व रिकॉर्ड उनके नाम है.

ये भी पढ़ें: World Cup: पहले सेमीफाइनल में भारत का मुकाबला न्यूजीलैंड से, दूसरे में इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच होगी भिड़ंत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 7, 2019, 8:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...