Home /News /sports /

Tokyo Olympics, Hockey: ‘भारतीय खिलाड़ियों ने सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए खुद को लगभग मार ही दिया था’

Tokyo Olympics, Hockey: ‘भारतीय खिलाड़ियों ने सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए खुद को लगभग मार ही दिया था’

भारतीय टीम के ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंंचने के बाद कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा कि उनके खिलाड़ियों ने इसके लिए कड़ी मेहनत की है. (AP)

भारतीय टीम के ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंंचने के बाद कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा कि उनके खिलाड़ियों ने इसके लिए कड़ी मेहनत की है. (AP)

Tokyo Olympics, Hockey: भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. उसने क्वार्टर फाइनल में ब्रिटेन पर 3-1 की जीत दर्ज की. भारतीय टीम (Indian Hockey Team) सेमीफाइनल में मंगलवार को बेल्जियम से भिड़ेगी.

अधिक पढ़ें ...

    टोक्यो. भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. उसने रविवार को यहां क्वार्टर फाइनल में ग्रेट ब्रिटेन (India vs Great Britain) पर 3-1 से जीत दर्ज की. भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह (Manpreet Singh) ने जीत के बाद कहा कि उनके खिलाड़ियों ने ओलंपिक सेमीफाइनल में जगह बनाने के अपने प्रयासों के दौरान ‘स्वयं को लगभग मार ही दिया’ था. मनप्रीत ने कहा कि आत्मविश्वास ने टीम की सफलता में अहम भूमिका निभाई जो 1972 म्यूनिख खेलों के बाद पहली बार ओलंपिक  (Olympics) में सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही. भारतीय हॉकी टीम (Indian Hockey Team) सेमीफाइनल में मंगलवार को बेल्जियम से भिड़ेगी.

    मनप्रीत सिंह ने कहा, ‘यह आत्मविश्वास था. सभी को अपने ऊपर यकीन था और आज यह अहम रहा. सभी ने आज अपना शत प्रतिशत दिया और मैदान पर उन्हें स्वयं को लगभग मार ही दिया था.’ भारत ने अपने आठ हॉकी ओलंपिक स्वर्ण पदकों में से आखिरी पदक 1980 मॉस्को खेलों में जीता था. लेकिन उस समय सेमीफाइनल नहीं हुए थे क्योंकि सिर्फ छह टीमों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था. म्यूनिख खेलों के सेमीफाइनल में भारत को चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ 0-2 से हार झेलनी पड़ी थी.

    मनप्रीत ने टीम के अपने साथियों को समय से पहले जश्न मनाने के प्रति चेताया भी है. उन्होंने कहा, ‘हम बेहद खुश हैं क्योंकि लंबे समय के बाद हमने सेमीफाइनल में जगह बनाई है. हालांकि, अब भी हमारा काम खत्म नहीं हुआ है. अब भी हमारे दो मैच बाकी हैं इसलिए हमें एकाग्रता कायम रखने की जरूरत है. हमें अपने पैर जमीन पर रखने की जरूरत है. हमें अपने अगले मैच पर ध्यान लगाना होगा.’

    यह भी पढ़ें: Tokyo Olympics: पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, 2 ओलंपिक मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला बनीं

    यह भी पढ़ें: Tokyo Olympics: मार्शेल जैकब्स 100 मीटर के नए ओलंपिक चैंपियन बने, इटली को दिलाया सोना

    मनप्रीत ने कहा कि सभी काफी अच्छा खेले. हमने तीन शानदार गोल किए. स्ट्राइकरों से अच्छे मौके बनाए और पूरी टीम काफी अच्छा खेली. भारत के अनुभवी गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने सोमवार को विरोधी टीम के कई अच्छे प्रयासों को नाकाम किया और मनप्रीत ने उनकी जमकर सराहना की. उन्होंने कहा, ‘अविश्वसनीय. आप देख सकते हैं कि वह (श्रीजेश) हमें हमेशा बचाता है. इसलिए हम उसे ‘द वॉल’ कहते हैं.’

    श्रीजेश ने कहा कि ओलंपिक में अंतिम दो मुकाबलों से पहले सुधार की काफी गुंजाइश है. उन्होंने कहा, ‘निश्चित तौर पर सुधार की काफी गुंजाइश है. अगर सेमीफाइनल की बात करें तो यह मेरे लिए नई चीज है. यह मेरा तीसरा ओलंपिक है और यह मेरे लिए नई चीज है. यह ऐसा समय है जब आप कोई गलती नहीं कर सकते.’

    Tags: Hockey, Indian Hockey, Indian Hockey Team, Olympics, Olympics 2020, Tokyo 2020, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर