• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • MITHALI RAJ SAYS INCLUDING SHAFALI VERMA IN 3 FORMATS GOOD NEED TO SUPPORTS YOUNG CRICKETERS

मिताली राज ने की शेफाली वर्मा की तारीफ, बोलीं- युवा खिलाड़ियों का साथ देने की जरूरत

शेफाली वर्मा को तीनों फॉर्मेट में मौका दिए जाने पर मिताली ने खुशी जाहिर की. (Instagram)

दिग्गज महिला क्रिकेटर मिताली राज (Mithali Raj) ने कहा कि शेफाली वर्मा (Shafali Verma) का तीनों फॉर्मेट में खेलना फायदेमंद है. उन्होंने कहा कि युवा खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलना चाहिए और फॉर्म खराब होने पर उनका साथ देने की जरूरत है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) ने युवा क्रिकेटर शेफाली वर्मा (Shafali Verma) के खेल की तारीफ की है. उन्होंने साथ ही शेफाली को तीनों फॉर्मेट की टीम में जगह मिलने का स्वागत किया और कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज में मिली हार के बाद इंग्लैंड में जीत की राह पर लौटने के लिए यह जरूरी है. कोरोना वायरस महामारी के कारण काफी समय खेल से दूर रही भारतीय महिला टीम एक टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैचों के दौरे के लिए इंग्लैंड रवाना होने वाली है.

    अगले साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड में वनडे वर्ल्ड कप होना है और उसकी तैयारी के लिए यह दौरा अहम है. शेफाली को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे टीम में जगह नहीं मिली थी जिसकी काफी आलोचना की गई थी. 17 साल की ऋचा घोष के बाद उन्हीं की उम्र की शेफाली को राष्ट्रीय टीम में जगह मिली है.

    मिताली ने पीटीआई से कहा कि टेस्ट और वनडे टीम में शेफाली को जगह मिलने का फायदा होगा और उनकी प्रतिभा को समझदारी से तराशने की जरूरत है. उन्होंने कहा, ‘उनका (शेफाली) तीनों फॉर्मेट में खेलना फायदेमंद है. देखना है कि वह किस तरह का प्रदर्शन करती हैं.’ मिताली का मानना है कि युवा खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलना चाहिए और फॉर्म खराब होने पर उनका साथ देने की जरूरत है.

    इसे भी देखें, कमिंस अपनी प्रेग्नेंट मंगेतर को देख हुए इमोशनल, गले लगकर खूब रोए, Video

    38 वर्षीय महिला क्रिकेटर ने कहा, ‘अनुभव बांटना एक बात है लेकिन खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए मंच मिलना चाहिए ताकि वे अनुभव और खेल की समझ हासिल कर सकें. उन्हें प्रगति के लिए समय देने की जरूरत है. इसके साथ ही नाकाम रहने पर उनका साथ देना सीनियर खिलाड़ी की जिम्मेदारी है.यह एक सफर है और कई बार अपनी जमीन खुद तलाशनी पड़ती है.’
    Published by:Tarun Vats
    First published: