Tokyo Olympics 2021: उत्तर कोरिया कोरोना के कारण टोक्यो ओलिंपिक में हिस्सा नहीं लेगा, 33 साल बाद ऐसा होगा

टोक्यो ओलिंपिक को कोरोना के कारण एक साल के टाला गया था. इस साल ये गेम्स 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होंगे. इसकी मशाल रैली जापान में शुरू हो गई है. (Tokyo 2020 Twitter)

टोक्यो ओलिंपिक को कोरोना के कारण एक साल के टाला गया था. इस साल ये गेम्स 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होंगे. इसकी मशाल रैली जापान में शुरू हो गई है. (Tokyo 2020 Twitter)

उत्तर कोरिया (North Korea) कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के कारण टोक्यो ओलिंपिक(Tokyo Olympics) में हिस्सा नहीं लेगा. देश के खेल मंत्रालय ने मंगलवार को ये जानकारी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 6, 2021, 11:00 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. उत्तर कोरिया (North Korea) कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के कारण टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympics) में हिस्सा नहीं लेगा. देश के खेल मंत्रालय ने मंगलवार को ये जानकारी दी. इन खेलों का आयोजन पिछले साल ही होना था. लेकिन कोविड-19 के कारण दूसरे विश्व युद्ध के बाद पहली बार इन खेलों को टाला गया था. टोक्यो ओलिंपिक इस साल 23 जुलाई से 8 अगस्त तक होने हैं. ये 1988 के सियोल ओलिंपिक के बाद पहला मौका होगा, जब उत्तर कोरिया का दल ओलिंपिक में हिस्सा नहीं लेगा. तब उसने इन खेलों का बहिष्कार किया था.

उत्तर कोरिया के खेल मंत्रालय की वेबसाइट जेसन स्पोर्ट्स पर लिखा गया है कि ओलिंपिक समिति की एक बैठक 25 मार्च को हुई थी. इसमें खेल मंत्री किम गुक भी शामिल हुए थे. इसी में टोक्यो ओलिंपिक में खिलाड़ियों को न भेजने का फैसला लिया गया था. ऐसा खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए किया गया है. इस मुश्किल वक्त में देश नहीं चाहता कि उसके एथलीट्स किसी तरह के खतरे में पड़े. कमेटी की बैठक में देश में प्रोफेशनल स्पोर्ट्स से जुड़ी टेक्नोलॉजी को विकसित करने, अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में मेडल जीतने और अगले पांच साल के स्पोर्ट्स रोडमैप जैसे कई और मुद्दों पर बातचीत हुई.

2018 में दोनों देशों ने एक साथ ओलिंपिक मेजबानी पर चर्चा की थी

2018 में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन (Moon Jae In) और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने एक शिखर सम्मेलन के दौरान ओलिंपिक गेम्स की सह-मेजबानी के लिए सहमति जताई थी. लेकिन देशों के बीच रिश्तों में आई कड़वाहट की वजह से 2019 में इस प्रस्ताव पर बातचीत बंद हो गई.
IPL 2021: धोनी ने प्रैक्टिस सेशन में जड़े लंबे-लंबे छक्के, CSK ने शेयर किया वीडियो

पिछले साल उत्तर कोरिया ने अपनी सीमा सील कर दी थी

बता दें कि पिछले साल कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए उत्तर कोरिया ने बाहरी दुनिया से अपने संबंध लगभग खत्म कर लिए थे. तब उत्तर कोरिया ने ये दावा किया था कि उसके यहां कोरोना संक्रमण के मामले नहीं हैं. हालांकि, विशेषज्ञों ने उसके इस दावे पर संदेह जताया था कि देश में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया था. उस समय सभी विदेशी राजनयिक अपने देश लौट गए गए थे. क्योंकि पहले से प्रतिबंध झेल रहे देश के सामने कोविड-19 के कारण रोजमर्रा की चीजों की भी किल्लत हो गई थी.



IPL 2021: आईपीएल में लक्ष्य का पीछा करना होगा आसान, सभी 6 वेन्यू के रिकॉर्ड इसके गवाह

इस बीच, टोक्यो ओलिंपिक की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. जापान में 25 मार्च को ओलिंपिक मशाल रैली की औपचारिक शुरुआत हो गई है. ये टॉर्च रिले फुकुशिमा से 121 दिन के सफर पर निकल चुकी है. इस दौरान अलग-अलग 47 प्रांतों और दस हजार एथलीट्स के हाथों से होते हुए ये ओलिंपिक के आयोजन स्थल टोक्यो पहुंचेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज