Home /News /sports /

नोवाक जोकोविच ऑस्‍ट्रेलिया सरकार के खिलाफ लड़ाई हारे, लगा करियर का सबसे बड़ा झटका

नोवाक जोकोविच ऑस्‍ट्रेलिया सरकार के खिलाफ लड़ाई हारे, लगा करियर का सबसे बड़ा झटका

नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलिया सरकार से अपनी कानूनी लड़ाई हार गए हैं और अब ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. (PIC: AP)

नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलिया सरकार से अपनी कानूनी लड़ाई हार गए हैं और अब ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. (PIC: AP)

नोवाक जोकोविच अब ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. ऑस्ट्रेलिया की एक अदालत ने सरकार के उस फैसले को बरकरार रखा है, जिसमें उसने जोकोविच को सार्वजनिक खतरा बताते हुए दूसरी बार वीजा रद्द कर दिया था. इसके खिलाफ जोकोविच ने कोर्ट में अपील की थी. लेकिन वो हार गए. अब उन्हें ऑस्ट्रेलिया से वापस भेजा जाएगा और उनकी देश में एंट्री 3 साल बैन रहेगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दुनिया के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) को बड़ा झटका लगा है. वो अब ऑस्ट्रेलियन ओपन में अपना खिताब बचाने के लिए नहीं उतर पाएंगे. ऑस्ट्रेलिया की एक कोर्ट ने सरकार के उन्हें देश से निर्वासित करने के आदेश को बरकरार रखा है. इस फैसले का मतलब साफ है कि जोकोविच, जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन लगाने की जानकारी सार्वजनिक करने से इनकार किया था. वो तब तक मेलबर्न में डिटेंशन में रहेंगे, जब तक उन्हें देश से वापस नहीं भेज दिया जाता है.

उन पर 3 साल तक ऑस्ट्रेलिया में एंट्री पर बैन लगाया गया है. इससे पहले, सोमवार को ऑस्ट्रेलिया ओपन के आयोजकों ने कहा था कि जोकोविच रॉड लेवर एरिना में पहले दौर का मैच खेलेंगे. फेडरल कोर्ट के तीन जजों ने जनहित के आधार पर सर्बिया के टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच का बीते शुक्रवार को दोबारा वीजा रद्द करने के आव्रजन मंत्री के फैसले का समर्थन किया.

जोकोविच को बताया गया था खतरा

मंत्री ने इस आधार पर वीजा रद्द किया था कि ऑस्ट्रेलिया में जोकोविच की उपस्थिति देश की जनता के स्वास्थ्य और “अच्छे आदेश” के लिए जोखिम हो सकती है और ऑस्ट्रेलिय़ा में कोरोना टीकाकरण को लेकर चलाए जा रहे अभियान से इसको झटका लग सकता है. जोकोविच को ऑस्ट्रेलियन ओपन में अपने पहले राउंड का मुकाबला सोमवार रात को खेलना था. लेकिन उससे पहले यह फैसला आ गया.

इंडिया ओपन: सिंधु हारीं, लक्ष्य सेन और चिराग-सात्विक की जोड़ी फाइनल में

इससे पहले, जोकोविच ने पहली बार वीजा रद्द होने के मामले में ऑस्ट्रेलिया सरकार के खिलाफ केस जीत लिया था. तब मेलबर्न की एक कोर्ट ने ऑस्ट्रेलियाई सरकार के इस टेनिस स्टार के वीजा रद्द करने के फैसले को गलता माना था और सरकार को जोकोविच का पासपोर्ट और बाकी दस्तावेज और सामान फौरन लौटाने के लिए कहा था. इसके बाद उन्होंने प्रैक्टिस भी शुरू कर दी थी. हालांकि, कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ सरकार ने जोकोविच को सार्वजनिक खतरा मानते हुए दोबारा उनका वीजा रद्द कर दिया. इस बार कोर्ट ने सरकार के पक्ष में फैसला सुनाया.

पहले मैच में हमवतन का करना था सामना
20 ग्रैंड स्लैम जीत चुके नोवाक को हमवतन खिलाड़ी मिओमिर केक्मानोविक का सामना करना था. शेड्यूल के मुताबिक यह मुकाबला सोमवार को खेला जाना था. अगर जोकोविच खिताब जीतने में सफल रहते तो वो सबसे अधिक 21 ग्रैंड स्लैम जीतने वाले खिलाड़ी बन जाते. जोकोविच ने पिछले साल शानदार प्रदर्शन किया था और सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम जीतने के मामले में स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर और स्पेन के राफेल नडाल की बराबरी कर ली थी. इन सभी ने 20-20 ग्रैंड स्लैम जीते हैं. जोकोविच अगर ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीतते हैं तो वह फेडरर और नडाल दोनों से आगे निकल जाते.

इस बार जोकोविच आस्ट्रेलियाई ओपन टूर्नामेंट में अपने खिताब का बचाव करने के लिए कोर्ट में उतरने वाले थे, लेकिन अब ये संभव नहीं हो पाएगा. 2021 के ऑस्ट्रेलियन ओपन के खिताबी मुकाबले में जोकोविच ने डेनियल मेदवेदेव को हराया था.

Tags: Australian open, Novak Djokovic, Sports news, Tennis

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर