होम /न्यूज /खेल /नोवाक जोकोविच का फ्रेंच ओपन में भी खेलना संदिग्ध, ऑस्ट्रेलिया से निकाला तो दुबई के रास्ते बेलग्रेड रवाना

नोवाक जोकोविच का फ्रेंच ओपन में भी खेलना संदिग्ध, ऑस्ट्रेलिया से निकाला तो दुबई के रास्ते बेलग्रेड रवाना

जोकोविच पिछले महीने ऑस्ट्रेलियाई ओपन में अपने खिताब का बचाव नहीं कर पाये थे. कोविड का टीका नहीं लगवाने के कारण जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया से निर्वासित कर दिया गया था.. (AFP)

जोकोविच पिछले महीने ऑस्ट्रेलियाई ओपन में अपने खिताब का बचाव नहीं कर पाये थे. कोविड का टीका नहीं लगवाने के कारण जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया से निर्वासित कर दिया गया था.. (AFP)

नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) भले ही स्वदेश रवाना हो गए लेकिन अगले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट फ्रेंच ओपन (French Open) में ...अधिक पढ़ें

दुबई. कोरोना वायरस का टीका नहीं लगवाने के कारण ऑस्ट्रेलिया से निकाले गए दुनिया के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) सोमवार की सुबह दुबई के रास्ते सर्बिया रवाना हो गए. कोविड-19 का टीकाकरण नहीं करवाने के कारण वह ऑस्ट्रेलियाई ओपन (Australian Open-2022) में अपने खिताब का बचाव करने के लिए नहीं उतर पाए. फ्रांस में नया नियम लागू होने के बाद उनका मई-जून में होने वाले फ्रेंच ओपन (French Open) में खेलना भी मुश्किल हो जाएगा.

अमीरात के विमान से नोवाक जोकोविच साढ़े 13 घंटे की उड़ान के बाद मेलबर्न से दुबई पहुंचे . इसके बाद उन्हें सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड की उड़ान लेते देखा गया. दुबई में यात्रियों के लिए टीकाकरण अनिवार्य नहीं है लेकिन उन्हें उड़ान भरने से पहले नेगेटिव आरटी पीसीआर रिपोर्ट दिखानी जरूरी है.

इसे भी देखें, नोवाक जोकोविच को ऑस्‍ट्रेलिया से बाहर निकाला, साढ़े 13 घंटे का सफर तय कर पहुंचे दुबई

9 बार के ऑस्ट्रेलियाई ओपन और 20 ग्रैंडस्लैम विजेता जोकोविच का वीजा ऑस्ट्रेलिया में दो बार रद्द हो गया क्योंकि कोरोना टीकाकरण के कड़े नियमों में मेडिकल छूट के लिए जरूरी मानदंडों पर वह खरे नहीं उतरे थे. उन्होंने पहली बार वीजा रद्द होने के खिलाफ कानूनी लड़ाई जीती लेकिन दूसरी बार हार गए. ऑस्ट्रेलियन ओपन में उन्हीं खिलाड़ियों, अधिकारियों और दर्शकों को प्रवेश मिला है जिन्होंने कोरोना वायरस के दोनों टीके लगवाए हुए हैं.

जोकोविच भले ही ऑस्ट्रेलिया से स्वदेश रवाना हो गए लेकिन अगले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट फ्रेंच ओपन में खेलने को लेकर आशंकाएं जताई जा रही हैं. फ्रांसीसी संसद के एक सदस्य ने कहा कि एक नये कानून से उन लोगों को खेल स्थलों, रेस्तरां और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर आने की अनुमति नहीं होगी जिन्होंने टीकाकरण नहीं करवाया है तथा जो भी टूर्नामेंट में खेलना चाहता है, उस पर यह नियम लागू होगा.

Tags: Australian open, Australian Open Tennis Tournament, Novak Djokovic, Tennis

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें