अपना शहर चुनें

States

दिल्‍ली में इंटरनेशनल खिलाड़ी सहित 4 लोग लूट और गोलीबारी के आरोप में गिरफ्तार

दिल्‍ली पुलिस. (Demo Pic)
दिल्‍ली पुलिस. (Demo Pic)

लूटपाट के आरोपियों की पहचान दिनेश, लक्ष्‍य, हरदीप और रोबिन के रूप में हुई और चारों दिल्‍ली के रहने वाले हैं. इन पर आरोप है कि इन्‍होंने बंदूक की नोक पर एक किराने की दुकान पर लूटपाट की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 10, 2019, 11:29 PM IST
  • Share this:
दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने शनिवार को अंतरराष्‍ट्रीय गोल्‍ड मेडल विजेता (International Gold Medalist) सहित 4 लोगों को लूटपाट के मामले में गिरफ्तार किया. इनके पास से दो देशी कट्टे, 5 जिंदा कारतूस और एक फर्जी नंबर वाली कार मिली है. इनकी पहचान दिनेश, लक्ष्‍य, हरदीप और रोबिन के रूप में हुई और चारों दिल्‍ली के रहने वाले हैं. इन पर आरोप है कि इन्‍होंने बंदूक की नोक पर एक किराने की दुकान पर लूटपाट की. यह घटना 24 जुलाई की रात 10 बजे की बताई जाती है.

दुकान मालिक से पैसे लूटे और नौकर पर गोली चलाई
पुलिस के अनुसार, शिकायत दी गई थी कि रोहिणी में दुकान का शटर बंद किया जा रहा था. उस समय दुकान का मालिक 60 रुपये की नकदी का बैग व बाकी सामान के साथ कार में बैठा था और उसका नौकर शटर गिरा रहा था. इसी दौरान तीन लोग कार से आते हैं और मालिक से नकदी का बैग छीन लेते हें और भागने से पहले नौकर पर गोली चलाते हैं. शिकायत मिलने के बाद पुलिस टीम बनाई गई और सीसीटीवी फुटेज देखे गए. लेकिन इससे ज्‍यादा कुछ नहीं मिला. इसके बाद उस इलाके के बाकी सीसीटीवी कैमरों की भी जांच की गई.

8 दिन में चैक किए 170 सीसीटीवी फुटेज
8 दिन बाद करीब 170 सीसीटीवी फुटेज जांचने के बाद कुछ सबूत मिले. डीसीपी गौरव शर्मा ने बताया, काफी सारे फुटेज देखने के बाद आरोपियों की सफेद स्विफ्ट कार की झलक दिखी. पता चला कि गाड़ी के पहिए के कवर काले रंग के थे और केवल नंबर प्‍लेट की लाइट जल रही थी. इसके बाद कार को ढूंढने के प्रयास किए गए.'



30 मिनट पहले जाकर की रैकी
काफी मशक्‍कत के बाद गाड़ी का पता चला. जांच में आरोपियों ने बताया कि ड्राइवर और कोल्‍ड ड्रिंक्‍स सप्‍लाई का काम करने वाले रोबिन ने दुकान मालिक के बारे में बताया था. घटना वाली रात में वे 30 मिनट पहले दुकान पर पहुंच गए थे और वहां जाकर उन्‍होंने रैकी की. जब दुकान बंद की जा रही थी तब हरदीप, सचिन और दिनेश कार से निकले और बंदूक के सहारे लूट को अंजाम दिया.

दो आरोपी हैं पहलवान
आरोपी दिनेश बैडशीट बेचा करता था और उसे पैसों की जरूरत थी क्‍योंकि उसकी पत्‍नी प्रेग्‍नेंट थी. वहीं हरदीप अपने पिता के साथ फैक्‍ट्री चलाता था. वह सुल्‍तानपुरी में कुश्‍ती का अभ्‍यास भी किया करता था. उस पर काफी कर्जा हो गया था. उसके भतीने ने लूट का प्‍लान बनाया और फिर इसे अंजाम दिया. लक्ष्‍य पांच साल से कुश्ती में था और उसने 2017 में थाईलैंड में खेली गई इंडो-थाई चैंपियनशिप में गोल्‍ड मेडल जीता था. वह मस्‍ती के लिए इन लोगों के साथ हो गया और उसने ही नौकर पर गोली चलाई थी.

इंडिया ने पाक को हराकर रचा इतिहास, इस फाइनल में पहुंचा

इंडिया के कोच चुनने में देरी! कोहली को नहीं मिलेगी तवज्‍जो
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज