जसपाल राणा को द्रोणाचार्य पुरस्‍कार नहीं, अभिनव बिंद्रा ने सुनाई खरी-खोटी

भाषा
Updated: August 18, 2019, 4:40 PM IST
जसपाल राणा को द्रोणाचार्य पुरस्‍कार नहीं, अभिनव बिंद्रा ने सुनाई खरी-खोटी
जसपाल राणा.

द्रोणाचार्य पुरस्‍कार (Dronacharya Award) के लिए जसपाल राणा (Jaspal Rana) का नाम नहीं था. उन्‍होंने मनु भाकर, सौरभ चौधरी और अनीस भानवाला जैसे विश्वस्तरीय निशानेबाजों को तैयार किया है.

  • Share this:
भारत की तरफ ओलिंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने वाले एकमात्र खिलाड़ी अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने शनिवार को जसपाल राणा (Jaspal Rana) का नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार (Dronacharya Award) के लिये नामित नहीं किए जाने पर चयन पैनल की कड़ी आलोचना की. एशियाई खेलों में कई स्वर्ण पदक जीतने वाले राणा ने मनु भाकर, सौरभ चौधरी और अनीस भानवाला जैसे विश्वस्तरीय निशानेबाजों को तैयार किया है. बिंद्रा ने कहा कि उनके शिष्यों को अगले साल टोक्यो ओलंपिक में अच्छा प्रदर्शन करके चयन समित को गलत साबित करना चाहिए.

'जसपाल को नजरअंदाज करना निराशाजनक' 
बिंद्रा ने ट्वीट किया, ‘मैं अपनी सफलता का श्रेय बेहतरीन कोच को देता रहा. जसपाल राणा सर्वश्रेष्ठ कोच में एक हैं और उन्हें द्रोणाचार्य के लिये नजरअंदाज करना निराशाजनक है. उम्मीद है कि इससे उनके शिष्यों को कड़ी मेहनत करने और टोक्यो 2020 में समिति को गलत साबित करने की प्रेरणा मिलेगी.’

jaspal rana, dronacharya awards, abhinav bindra, arjuna award 2019, shooting, jaspal rana shooting, जसपाल राणा, द्रोणाचार्य अवार्ड, अभिनव बिंद्रा
अभिनव बिंद्रा.


बीजिंग ओलिंपिक में जीता था गोल्‍ड 
बिंद्रा ने बीजिंग ओलिंपिक 2008 में दस मीटर एयर राइफल में स्वर्ण पदक जीता था. राणा ने इस पर बिंद्रा का आभार व्यक्त किया और कहा कि वह किसी के सामने खुद को साबित करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘आभार अभिनव बिंद्रा. आपके शब्द मेरे लिये अधिक महत्वपूर्ण हैं. मैं किसी के सामने खुद को साबित करने की कोशिश नहीं कर रहा हूं.’

jaspal rana, dronacharya awards, abhinav bindra, arjuna award 2019, shooting, jaspal rana shooting, जसपाल राणा, द्रोणाचार्य अवार्ड, अभिनव बिंद्रा
अभिनव बिंद्रा के ट्वीट पर जसपाल राणा का जवाब.

Loading...

3 कोच को मिला है द्रोणाचार्य पुरस्‍कार
बता दें कि इस साल के द्रोणाचार्य पुरस्‍कार के लिए बैडमिंटन कोच विमल कुमार, टेबल टेनिस कोच संदीप गुप्ता और ए‌थलेटिक्स कोच मोहिंदर सिंह ढिल्लो को चुना गया है.

इस साल तीन कोच को द्रोणाचार्य अवार्ड देने के साथ ही तीन कोच को लाइफटाइम कैटेगरी से भी सम्‍मानित किया गया है. इसमें हॉकी से मेजबान पटेल, कबड्डी से रामबीर सिंह खोखर और क्रिकेट से संजय भारद्वाज का नाम शामिल हैं.

दीपा मलिक बनेंगी 'खेल रत्न', जडेजा को मिलेगा अर्जुन अवॉर्ड, यहां देखें पूरी लिस्ट

पूर्व क्रिकेटर प्रवीण कुमार के ससुर छत से गिरे, मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2019, 4:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...