जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप: वेटलिफ्टर अचिंता श्युली ने जीता सिल्वर, नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया

अचिंता श्युली ने अपना रिकॉर्ड भी सुधारा. (IndiaSportsHub Twitter)

अचिंता श्युली ने अपना रिकॉर्ड भी सुधारा. (IndiaSportsHub Twitter)

भारतीय वेटलिफ्टर अचिंता श्युली (Achinta sheuli) ने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता. इस दौरान उन्होंने नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया. 19 साल के इस खिलाड़ी ने कुल 313 किग्रा वजन उठाया.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय वेटलिफ्टर अचिंता श्युली ने तीनों वर्ग में अपना निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए बुधवार को जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप के 73 किग्रा वर्ग में सिल्वर मेडल जीता. 19 साल के श्युली ने इस ओलंपिक क्वालिफायर टूर्नामेंट में स्नैच में 141 किग्रा और क्लीन एवं जर्क में 172 किग्रा वजन के साथ कुल 313 किग्रा वजन उठाया. यह नेशनल रिकॉर्ड भी है.

राष्ट्रमंडल चैंपयिनशिप के गोल्ड मेडलिस्ट श्युली ने स्नैच और क्लीन एवं जर्क दोनों में अपने निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में दो-दो किग्रा का सुधार किया. उन्होंने पिछले महीने यहां एशियाई चैंपियनशिप में 309 किग्रा (139 किग्रा +170 किग्रा) वजन उठाया था. इंडोनेशिया के जूनियनशाह रिज्की ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन वर्गों में जूनियर विश्व रिकॉर्ड बनाकर गोल्ड मेडल जीता. उन्होंने कुल 349 किग्रा (155 किग्रा+194 किग्रा) वजन उठाया.

दूसरे प्रयास में चूक गए थे श्युली

रूस के सेरोबियान गेवोर्ग ने 308 किग्रा (143 किग्रा+165 किग्रा) वजन उठाकर ब्रॉन्ज मेडल जीता. श्युली ने स्नैच में अपने पहले प्रयास में 137 किग्रा वजन आसानी से उठाया, लेकिन दूसरे प्रयास में 141 किग्रा वजन उठाने से चूक गए. उन्होंने हालांकि तीसरे और अंतिम प्रयास में 141 किग्रा वजन उठाकर इस वर्ग का ब्रॉन्ज मेडल जीता. पिछले कुछ समय से भारत के जूनियर खिलाड़ियों का इंटरनेशनल स्तर पर प्रदर्शन सुधरा है. हालांकि अभी हमें ओलंपिक मेडल का इंतजार है. कर्णम मल्लेश्वरी के बाद कोई भी ओलंपिक में मेडल नहीं दिला सका है. एक और महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है.
वर्ल्ड चैंपियनशिप में अलग-अलग मेडल मिलते हैं

महाद्वीपीय और वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्नैच और क्लीन एवं जर्क तथा कुल वजन के आधार पर अलग-अलग पदक दिए जाते हैं. ओलंपिक में हालांकि कुल वजन के आधार पर एक पदक मिलता है. मंगलवार को युवा ओलंपिक के गोल्ड मेडलिस्ट जेरेमी लालरिनुंगा 67 किग्रा वर्ग में चौथे स्थान पर रहे थे. उन्होंने स्नैच वर्ग में सिल्वर जीता था. उनके ओलंपिक में क्वालिफाई करने की उम्मीद कम है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज