एआईबीए का बड़ा आरोप, कहा- टूर्नामेंट होने के 18 महीने बाद भी भारत ने नहीं चुकाया पैसा

एआईबीए का बड़ा आरोप, कहा- टूर्नामेंट होने के 18 महीने बाद भी भारत ने नहीं चुकाया पैसा
भारतीय बॉक्सिंग एसोसिएशन को बड़ा झटका

मेजबानी फीस न भर पाने के कारण अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज संघ (AIBA) ने 2021 में होने वाली वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप की मेजबानी भारत से छीन ली.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 11:23 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मेजबानी की फीस न भर पाने के कारण अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज संघ (AIBA) ने 2021 में होने वाली वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप की मेजबानी भारत से छीन ली. इसका आयोजन नई दिल्ली में होना था. मगर मेजबानी छिनने से भारत को बहुत बड़ा झटका लगा है. अब अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज संघ ने भारतीय मुक्केबाजी संघ (बीएफआई) पर अपने दायित्वों का पालन नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसने महिला विश्व चैंपियनशिप 2018 के आयोजन के मेजबानी शुल्क का लगभग दो तिहाई हिस्से का अब तक भी भुगतान नहीं किया है.
वहीं बीएफआई ने कहा था कि एआईबीए ने मेजबानी शुल्क नहीं भरने के कारण 2021 की पुरुष विश्व चैंपियनशिप की मेजबानी भारत से वापस लेने में जल्दबाजी दिखाई. इसके जवाब में विश्व संस्था ने बुधवार को बयान जारी करके भारतीय संघ पर यह आरोप लगाया. एआईबीए ने कहा कि एआईबीए को इसलिए भी यह फैसला करना पड़ा, क्योंकि बीएफआई ने 2018 की एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के मेजबानी शुल्क का लगभग दो तिहाई हिस्सा प्रतियोगिता के 18 महीने बाद भी नहीं चुकाया है.

बाद में भुगतान करने पर सहमत हो गई थी एआईबीए

अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज संघ ने कहा कि बीएफआई को 2018 की गर्मियों में मेजबानी शुल्क चुका देना चाहिए था. एआईबीए ने बहुत धैर्य और समझदारी दिखाई और वह बाद में भुगतान करने की कई योजनाओं पर सहमत हुआ, लेकिन बीएफआई ने इनका कभी सम्मान नहीं किया. एआईबीए को अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति ने वित्तीय और प्रशासनिक कुप्रबंधन के लिए निलंबित कर रखा है. उसने उस राशि का खुलासा नहीं किया जो बीएफआई को 2018 की प्रतियोगिता के लिए भुगतान करनी है. यह प्रतियोगिता दिल्ली में हुई थी. एआईबीए ने सोमवार को 2021 की पुरुष चैंपियनशिप का आयोजन सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड में करने का फैसला किया था. एआईबीए  के अंतरिम अध्यक्ष ने मोहम्मद मुस्ताहसाने ने कहा कि सर्बिया के लिए ये बड़ा टूर्नामेंट होगा. उन्होंने कहा कि सर्बिया के पास इतने बड़े टूर्नामेंट को आयोजित करने के लिए सबकुछ है. उसके पास एथलीट, कोच और अधिकारी इस दिशा में जमकर काम करेंगे.
कोरोना वायरस के बीच डिंको सिंह को मिली मदद, यूं लड़ रहे हैं कैंसर की जंग



Happy Birthday Rohit:स्कूल फीस भरने तक के नहीं थे पैसे,आज टीम इंडिया के हिटमैन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज