भारतीय शटलर्स के लिए फायदेमंद है ओलिंपिक का स्थगित होना, क्वालिफाई करने में मिलेगी मदद

भारतीय शटलर्स के लिए फायदेमंद है ओलिंपिक का स्थगित होना, क्वालिफाई करने में मिलेगी मदद
एन सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोन्नपा बैडमिंटन डबल्स खिलाड़ी हैं

ओलिंपिक (Olympic) स्थगित होने से पहले ही बीडब्ल्यूएफ (BWF) ने सभी टूर्नामेंट को स्थगित कर दिया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2020, 5:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस के कारण इस साल होने वाले ओलिंपिक खेल अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिए गए हैं. जहां कुछ खिलाड़ी इसे तैयारियों के लिए अच्छा मान रहे हैं वहीं कुछ के लिए निराशा भरा भी है. भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों अश्विनी पोनप्पा (Ashwini Ponappa) और एन सिक्की रेड्डी (N Sikki Reddy) को कोरोना वायरस महामारी के कारण ब्रेक मिला है और वे इसका फायदा अपने पुराने प्रदर्शन का डाटाबेस बनाकर उसका विश्लेषण करके उठा रहे हैं. इस महिला युगल जोड़ी को अब ओलिंपिक क्वालिफिकेशन के लिए एक और चुनौती पेश करने का इंतजार है.

ब्रेक का फायदा उठाना चाहते हैं बैडमिंटन खिलाड़ी
कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में एक लाख 20 हजार से अधिक लोगों की जान गई है और 20 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हुए है. इस महामारी के कारण दुनिया भर में बैडमिंटन सहित खेल गतिविधियां ठप्प पड़ी हैं. अश्विनी (Ashwini Ponappa) और सिक्की के लिए पिछला सत्र काफी अच्छा नहीं रहा. अब मिले ब्रेक से उनके पास पिछले पिछले प्रदर्शन का आकलन करने का मौका है.

लंदन और रियो ओलिंपिक (Rio Olympic) खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली अश्विनी ने पीटीआई से कहा, ‘हमारे पास कोई ऐसा व्यक्ति नहीं है जो बैठकर हमारे प्रदर्शन का विश्लेषण करे. अब हमारे पास समय है, मैं हमारे प्रदर्शन का विश्लेषण कर रही हूं. मैं उन विभागों पर गौर कर रही हूं जिनमें सुधार किया जा सकता है. मैंने अपने मैचों के साथ शुरुआत की और फिर टूर पर अन्य खिलाड़ियों के मैचों को भी देखा.’
पिछले साल अश्विनी और सिक्की की जोड़ी 20 टूर्नामेंटों में से 13 में पहले दौर में ही बाहर हो गई जबकि तीन बार इस जोड़ी को दूसरे दौर में हार का सामना करना पड़ा. अश्विनी ने कहा, ‘आप हमेशा चीजों को देखकर उनका विश्लेषण कर सकते है और चीजों को समझ सकते हैं लेकिन जब आप कागज पर चीजों को देखते हैं जो ये अलग होती हैं. यह अधिक ठोस होती हैं. इसलिए पूरा डाटाबेस तैयार करने का प्रयास कर रहे हैं. मेरा भाई मेरी मदद करेगा. इससे पहले वह मेरे लिए एक ऐप भी बना चुका है.’



बीडब्ल्यूएफ ने रद्द किए हैं कई टूर्नामेंट
विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने कोरोना वायरस महामारी के कारण ओलंपिक क्वालीफिकेशन के बाकी बचे टूर्नामेंटों को रद्द कर दिया है और अभी क्वालीफिकेशन को लेकर नए नियमों की जानकारी नहीं है. लॉकडाउन के मानसिक असर के बारे में अश्विनी ने कहा, ‘इतने वर्षों में हमने काफी यात्रा की है और अब एक महीने से हम घर पर है, सब ठीक है. लेकिन अगर दो-तीन महीने तक ऐसा हुआ तो क्या होगा, तब खेल से दूर रहना मुश्किल हो जाएगा.’

जस्टिन बीबर के बाद अब अंडरटेकर ने भी कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए बढ़ाया हाथ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading