लाइव टीवी

कोरोना वायरस की वजह से कटेगी सैलरी, आई बड़ी खबर!

News18Hindi
Updated: March 22, 2020, 9:06 AM IST
कोरोना वायरस की वजह से कटेगी सैलरी, आई बड़ी खबर!
कोरोना वायरस की वजह से कटेगी जेब!

कोरोना वायरस (Corona Virus) की वजह से आर्थिक मंदी के हालात पैदा हो गए हैं, अब तो खिलाड़ियों की सैलरी काटने का ऐलान भी हो गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2020, 9:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) सिर्फ लोगों की जान ही नहीं ले रहा बल्कि इसके साथ-साथ ये महामारी आर्थिक मंदी के हालात भी पैदा कर रही है. कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण लगभग सभी तरह के खेलों के आयोजन पर रोक लगी हुई है और अब इसका साइडइफेक्ट खिलाड़ियों पर पड़ने वाला है. खबरों के मुताबिक बड़े-बड़े फुटबॉल क्लब अपने खिलाड़ियों की सैलरी काटने (Salary Cut) वाले हैं. यही नहीं अमेरिका के एनबीए खिलाड़ियों की भी जेब ढीली होने वाली है.

कोरोना करेगा जेब ढीली!
स्पेन की फुटबॉल लीग ला लीगा की सबसे बड़ी टीमों में से एक बार्सिलोना ने संकेत दिए हैं कि वो अपने खिलाड़ियों की सैलरी में कटौती कर सकती है. कोरोना वायरस के चलते सभी मैच रुके हुए हैं और इससे बार्सिलोना फुटबॉल क्लब को काफी वित्तीय नुकसान हो रहा है. इसकी भरपाई के लिए अब क्लब अस्थायी तौर पर कुछ सीनियर खिलाड़ियों की सैलरी कम कर सकता है. बार्सिलोना (Barcelona) के सीईओ ऑस्कर ग्रायू ने इस बारे में ला लीगा और यूरोप के दूसरे क्लबों से बात भी कर ली है. क्लब से जुड़े सूत्रों के मुताबिक बार्सिलोना के वित्तीय स्थायित्व के लिए सैलरी में कटौती करना बेहद जरूरी हो गया है.

बता दें यूरोप के कई क्लबों ने पहले ही खिलाड़ियों की सैलरी कम करने का ऐलान कर दिया है लेकिन बार्सिलोना अबतक इसपर विचार ही कर रहा है. बता दें बार्सिलोना पूरी दुनिया का पहला ऐसा क्लब है जिसके खिलाड़ियों की औसतन सैलरी 1.1 करोड़ यूरो है .स्पेन समेत पूरे यूरोप में फुटबॉल मैच स्थगित हैं जिससे सभी क्लबों को नुकसान हो रहा है और इसी नुकसान से बचने के लिए क्लब खिलाड़ियों की सैलरी कम करने पर मजबूर हैं.



एनबीए खिलाड़ियों का वेतन भी कटेगा
एक ओर जहां फुटबॉल क्लब अपने खिलाड़ियों की सैलरी काटने वाले हैं वहीं दूसरी ओर अमेरिकी बास्केटबॉल लीग एनबीए (NBA) भी अपने खिलाड़ियों की वेतन कटौती करने वाली है.एनबीए योजना के अनुसार एक अप्रैल तक अपने खिलाड़ियों को पूर्ण वेतन दे देगा लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार वह 15 अप्रैल से वेतन में कटौती शुरू कर सकता है. ईएसपीएन ने शनिवार को रिपोर्ट में इसका खुलासा किया है कि रद्द हुए मैचों से हुए नुकसान की भरपायी के लिये वह ऐसा कदम उठा सकता है. इस स्पोर्ट नेटवर्क की वेबसाइट ने शुक्रवार को एनबीए क्लबों के साथ साझा किए गए एक नोटिस का हवाला देते हुए कहा कि लीग जल्द ही करार के आधार पर खिलाड़ियों के साथ वेतन में कटौती शुरू कर सकती है. रूडी गोबर्ट ने कोरोना वायरस का पॉजीटिव पाये जाने के बाद एनबीए ने 11 मार्च को अपना सत्र रोक दिया था जिससे अमेरिका में लीग को बंद कर दिया गया. (भाषा के इनपुट के साथ)

हजारों दर्शकों के बीच बैठा था कोरोना वायरस का मरीज,राष्ट्रपति की नहीं मानी बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2020, 9:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर