लियोनल मेसी ने भी इंग्लिश फुटबॉल के सोशल मीडिया बहिष्कार कैंपेन का समर्थन किया

लियोनल मेसी भी खिलाड़ियों के साथ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर होने वाले नस्लीय उत्पीड़न और भेदभाव के खिलाफ हैं. (Lionel Messi Instagram)

लियोनल मेसी भी खिलाड़ियों के साथ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर होने वाले नस्लीय उत्पीड़न और भेदभाव के खिलाफ हैं. (Lionel Messi Instagram)

बार्सिलोना के स्टार स्ट्राइकर लियोनल मेसी (Lionel Messi) ने इंग्लैंड के फुटबॉल (England Football) और दूसरे स्पोर्ट्स के क्लबों के सोशल मीडिया बहिष्कार (Social Media Boycott Campaign) के कैंपेन का समर्थन किया है. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम के 20 करोड़ फॉलोअर्स से इस लड़ाई में मदद देने की अपील की.

  • Share this:
नई दिल्ली. स्पेनिश फुटबॉल क्लब बार्सिलोना के स्टार स्ट्राइकर लियोनल मेसी(Lionel Messi) ने इंग्लैंड के फुटबॉल (England Football) और दूसरे स्पोर्ट्स के क्लबों के सोशल मीडिया बहिष्कार(Social Media Boycott Campaign) के कैंपेन का समर्थन किया है. उन्होंने 20 करोड़ फॉलोअर्स वाले अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल खिलाड़ियों के खिलाफ हो रहे ऑनलाइन बदसलूकी के खिलाफ कार्रवाई की मांग के लिए किया.

बार्सिलोना के इस फॉरवर्ड ने शनिवार को उस समय यह मैसेज अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट किया, जब इंग्लैंड फुटबॉल लीग, क्लबों और खिलाड़ियों ने ऑनलाइन नस्लीय उत्पीड़न और भेदभाव के खिलाफ 4 दिन तक सोशल मीडिया के बहिष्कार शुरू किया है. मेसी भी इस दौरान चुप नहीं रहे. उन्होंने सोशल मीडिया पर दुर्व्यवहार और भेदभाव के खिलाफ अभियान के विचार के लिए ब्रिटिश फुटबॉल से जुड़े सभी लोगों को इंस्टाग्राम के जरिए बधाई दी.

मेसी ने सोशल मीडिया कंपनियों से भी लगाम लगाने की गुजारिश की

उन्होंने अपने फॉलोअर्स के लिए स्पेनिश में लिखा कि आप प्रत्येक प्रोफाइल के पीछे के व्यक्ति को महत्व दें, जिससे कि हम सभी महसूस करें कि हर अकाउंट के बीच हाड़-मांस का व्यक्ति है, जो हंसता है, रोता है, जीवन का आनंद उठाता है और कष्ट सहन करता है. मेसी ने फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया कंपनियों से भी अधिक प्रयास करने को कहा है.
View this post on Instagram

A post shared by Leo Messi (@leomessi)





मेसी की लोगों से अपील- इस युद्ध में मदद करें



मेसी ने आगे लिखा कि मैं चाहता हूं कि आप 20 करोड़ लोग मुझे फॉलो करते हैं. वो सोशल मीडिया नेटवर्क को सुरक्षित और सम्मानित बनाने के 20 करोड़ कारण बने. जहां हम बिना इस डर के कोई भी बात शेयर कर सकें कि हमें उसके लिए अपमानित होना पड़ेगा. मैं चाहता हैं कि ये अपमान, नस्लवाद, बदसलूकी और भेदभाव हमेशा के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से बाहर हो जाए. मुझे उम्मीद है कि आप इस लड़ाई में मेरा पूरा साथ देंगे.

इंग्लैंड में एफए, प्रीमियर लीग, ईएफएल, एफक वुमेंस सुपर लीग, एफए वुमेंस चैम्पियनशिप जैसे संगठनों ने ऑनलाइन भेदभाव और बदसलूकी के खिलाफ शुक्रवार से ही चार दिनों का सोशल मीडिया बहिष्कार कैंपेन शुरू किया है, जो सोमवार रात तक चलेगा. दुनिया के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने इसका समर्थन किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज