लाइव टीवी

निकहत जरीन का समर्थन करने पर बिंद्रा पर बरसीं मैरीकॉम, कहा- बॉक्सिंग में दखल ना दें

भाषा
Updated: October 20, 2019, 4:45 PM IST
निकहत जरीन का समर्थन करने पर बिंद्रा पर बरसीं मैरीकॉम, कहा- बॉक्सिंग में दखल ना दें
भारतीय दिग्गज बॉक्सर मैरीकॉम छह बार की वर्ल्ड चैंपियन हैं

पूर्व जूनियर विश्व चैम्पियन (World Champion) मुक्केबाज जरीन (Nikhat Zareen) ने खेल मंत्रालय को निष्पक्ष ट्रायल कराने के लिए पत्र लिखा था

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय स्टार महिला मुक्केबाज एम सी मैरीकॉम (MC Marykom) ने शनिवार को ओलिंपिक चैंपियन निशानेबाज अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) के निकहत जरीन (Nikhat Zareen) की मांग का समर्थन करने को लेकर निराशा व्यक्त की और कहा कि उन्हें मुक्केबाजी में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए.

गुरुवार को बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने जरीन (Nikhat Zareen) की छह बार की विश्व चैंपियन मुक्केबाज के खिलाफ ट्रायल कराने की मांग का समर्थन किया था लेकिन ओलिंपिक कांस्य पदकधारी मैरीकॉम (MC Marykom) को यह बात पसंद नहीं आयी.

मैरीकॉम ने अभिनव बिंद्रा को दी नसीहत
मैरीकॉम ने कहा, ‘बिंद्रा ओलिंपिक स्वर्ण पदक जीत चुके हैं लेकिन मैंने भी विश्व चैंपियनशिप में कई स्वर्ण पदक जीते हैं. मुक्केबाजी में हस्तक्षेप या दखल देना, उनका इससे कोई लेना देना नहीं है. मैं निशानेबाजी के बारे में बात नहीं करती इसलिये उनके लिये बेहतर यही होगा कि वह मुक्केबाजी पर चुप रहें. वह मुक्केबाजी के नियम नहीं जानते.’

साथ ही उन्होंने कहा, ‘वह मुक्केबाजी के बारे में कुछ नहीं जानते. इसलिये बेहतर होगा कि चुप रहें. मुझे नहीं लगता कि अभिनव भी हर निशानेबाजी टूर्नामेंट से पहले ट्रायल्स के लिये जाते होंगे.’ बिंद्रा और जरीन दोनों अलग अलग क्षमताओं में जेएसडब्ल्यू से जुड़े हुए हैं.

बिंद्रा ने ट्वीट किया था, ‘मैरीकॉम का मैं पूरा सम्मान करता हूं लेकिन खिलाड़ी को अपने करियर में बार बार सबूत देने पड़ते हैं. यह सबूत कि हम आज भी कल की तरह खेल सकते हैं. कल से बेहतर और आने वाले कल से बेहतर. खेल में बीता हुआ कल मायने नहीं रखता.’

ट्रायल देने से नहीं डरती मैरीकॉम
Loading...

मैरीकॉम ने एक सम्मान समारोह के दौरान कहा, ‘यह फैसला बीएफआई द्वारा लिया जा चुका है. मैं नियम नहीं बदल सकती. मैं सिर्फ प्रदर्शन कर सकती हूं. वो जो भी फैसला करेंगे, मैं उसका पालन करूंगी. मैं उससे (जरीन) से भिड़ने से नहीं डरती, मुझे ट्रायल्स से कोई परेशानी नहीं है. ’

उन्होंने कहा, ‘मैंने सैफ खेलों के बाद से उसे कई बार हराया है लेकिन वह फिर भी मुझे चुनौती देती रहती है. मेरा मतलब है कि इसकी क्या जरूरत है? यह महज एक औपचारिकता है. बीएफआई भी जानता है कि ओलिंपिक में कौन पदक जीत सकता है. ’ मैरीकॉम ने कहा, ‘लोग मुझसे ईर्ष्या करते हैं. ’

सौरव गांगुली को बधाई देते हुए युवराज सिंह ने कसा टीम इंडिया पर तंज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 20, 2019, 7:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...