Home /News /sports /

स्‍टार खिलाड़ी की चोट के चलते एक- दूसरे के 'दुश्‍मन' बन बैठे, जानिए दो टीमों की कहानी

स्‍टार खिलाड़ी की चोट के चलते एक- दूसरे के 'दुश्‍मन' बन बैठे, जानिए दो टीमों की कहानी

कनाडा आइस हॉकी टीम (फाइल फोटो)

कनाडा आइस हॉकी टीम (फाइल फोटो)

इन दोनों टीमों के बीच खेल के मैदान पर आपसी जंग 100 साल पुरानी है

    नई दिल्‍ली. खेल जगत में कुछ टीमों के बीच मुकाबले ऐसे होते है, जो किसी जंग से कम नहीं होते. दोनों टीमों पर दबाव रहता है. फैंस भी काफी आक्रमक नजर आने लगते हैं. माहौल पूरा जंग सा नजर आता है. हालांकि इस तरह से प्रतिस्पर्धा किसी एक मैच से नहीं होती, बल्कि कई दशकों की बराबरी के मुकाबले के बाद होती है. कनाडा और अमेरिका (Canada vs America) के बीच आइस हॉकी में ऐसी ही जबरदस्‍त आपसी स्‍पर्धा रहती है और दोनों के बीच ये जंग 1920 में शुरू हुई थी, जो आज तक चल रही है. पहले पुरुष टीम, फिर अंडर 20 टीम और फिर दोनों देशों की महिला टीमों के बीच भी ये स्‍पर्धा शुरू हो गई. कनाडा और अमेरिका की अंडर 20 टीमों के बीच आपसी स्‍पर्धा 1973 से और महिला टीमों के बीच 1990 से शुरू हुई थी.

    पुरुष टीम में ऐसे शुरू हुई प्रतिस्‍पर्धा
    कनाडा और अमेरिका के बीच पुरुष आइस हॉकी में आपसी प्रतिस्‍पर्धा 1920 ओलिंपिक से शुरू हुई. दरअसल 1920 समर ओलिंपिक में पहली बार इस खेल को शामिल किया था, इसके बाद इस खेल को स्‍थायी रूप से विंटर ओलिंपिक में स्‍थानांनरित किया गया. आइस हॉकी में पहले ओलिंपिक गोल्‍ड मेडल मुकाबले में कनाडा ने अमेरिका को हरा दिया था और 1960 तक अमेरिका इस टीम से नहीं जीत पाई थी. 1960 में जाकर अमेरिका ने कनाडा को हराकर विंटर ओलिंपिक का गोल्‍ड मेडल जीता. 1960 तक दोनों टीमों के बीच बड़ा मुकाबला माना जाने लगा था. मगर दुश्‍मनी वाली भावना 1991 कनाडा कप के दौरान फैंस के मन में आई. जब अमेरिकन डिफेंसर गैरी सूटर ने कनाडा के सुपर स्‍टार वेन ग्रेटिट्स्की को मैच के दौरान चोटिल कर दिया. इसके घटना ने कनाडाई फैंस के मन में अमेरिका टीम के लिए दुश्‍मनी का बीज बो दिया था. 1996 में कनाडाई जमीं पर हॉकी वर्ल्‍ड कप में बेस्‍ट ऑन बेस्‍ट के दौरान अमेरिका ने मेजबान को हरा दिया, जिसका बदला कनाडा ने 2002 ओलिंपिक के खिताबी मुकाबले में अमेरिका को उसी के घर में हराकर लिया. इसके अगले ओलिंपिक में अमेरिका ने कनाडा को ग्रुप स्‍टेज में हरा दिया. इस हार के बाद 2010 में कनाडा ने अपने घर में अमेरिका को हराकर ओलिंपिक गोल्‍ड जीता. 2014 में भी कनाडा ने जीत हासिल की थी.

    Canada vs america, sports rivals , sports news, कनाडा बनाम अमेरिका, स्‍पोर्ट्स न्‍यूज,
    1920 में ओलिंपिक गोल्‍ड जीतने वाली कनाडा की टीम (फाइल फोटो)


    जूनियर टीम में प्रतिस्‍पर्धा
    कनाडा और अमेरिका की सीनियर पुरुष टीम के बीच तो आपसी प्रतिस्‍पर्धा चल ही रही थी, मगर दोनों टीमों की अंडर 20 के बीच भी ऐसी जंग शुरू हो गई. इनके बीच वर्ल्‍ड जूनियर चैंपियनशिप में आपसी स्‍पर्धा देखने को मिलती है. जहां कनाडा के नाम 18 गोल्‍ड है, वहीं अमेरिका के पास चार गोल्‍ड है. इन चार में से तीन तो अमेरिका ने 2010, 2013 और 2017 में जीते.

    महिला टीम में जंग
    पुरुष टीम और अंडर 20 के बाद यह आपसी प्रतिस्‍पर्धा दोनों देशों की महिला टीमों के बीच भी देखने को मिलने लगी. ओलिंपिक, वर्ल्‍ड चैंपियनशिप और इंटनेशरनल मुकाबलों में इनके बीच मुकाबला कम और जंग अधिक देखने को मिलता है. 1998 ओलिंपिक में अमेरिका ने खिताब जीता, जिसका जवाब देते हुए कनाडा ने अगले चार ओलिंपिक गोल्‍ड जीते. अमेरिका ने लगातार चार चैंपियनशिप जीती.

    रमजान में मुसलमानों की मदद के लिए आगे आया ये दिग्गज खिलाड़ी, किया ऐसा काम

    इटली में मैदान पर लौटेंगे सिरी ए के फुटबॉल सितारे, सरकार से मिल गई इजाजत

    Tags: Hockey, Sports news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर