लाइव टीवी

अपने विरोधी के फैन हुए विश्वनाथन आनंद, कहा कार्लसन बाकियों से बहुत बेहतर

News18Hindi
Updated: December 12, 2019, 6:17 PM IST
अपने विरोधी के फैन हुए विश्वनाथन आनंद, कहा कार्लसन बाकियों से बहुत बेहतर
विश्आवनाथन आनंद को ग्रैंड चेस टूर में हार का सामना करना पड़ा है

आनंद (Viswanathan Anand) ने पहली बार विश्व शतरंज चैंपियनशिप 2000 में जीती थी और वह पांच बार के वर्ल्ड चैंपियन हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2019, 6:17 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद (Viswanathan Anand) ने गुरुवार को कहा कि भारतीय शतरंज का भविष्य उज्ज्वल है और कुछ खिलाड़ी फिडे रैंकिंग में जल्द ही शीर्ष दस में जगह बनाएंगे. आनंद (Viswanathan Anand) अभी फिडे रैंकिंग में 15वें स्थान पर हैं और उनको लगता है पी हरिकृष्णा (Harikrishan) और विदित गुजराती जैसे खिलाड़ी आगामी वर्षों में शीर्ष दस में जगह बना सकते हैं.

उन्होंने पीटीआई से कहा, ‘मुझे लगता है कि हरि (हरिकृष्णा), विदित, सूर्या (शेखर गांगुली), शशि (के शशिकिरण) भविष्य के स्टार है. जल्द ही भारत से कोई खिलाड़ी शीर्ष दस में जगह बनाएगा. भारत में शतरंज का भविष्य उज्ज्वल दिखता है क्योंकि हमारे यहां काफी प्रतिभा है.’ आनंद (Viswanathan Anand) ने कहा, ‘हमारे पास प्रगु (आर प्रगानानंदा), निहाल सरीन, डी गुकेश, रौनक साधवानी जैसे खिलाड़ी हैं. भारतीय शतरंज के लिये चीजें अच्छी दिखी रही है. ’

विश्वनाथन आनंद बुधवार को 50 साल के हो गए


आनंद ने कार्लसन की जमकर तारीफ

बुधवार को अपना 50वां जन्मदिन मनाने वाले आनंद(Viswanathan Anand) ने स्वीकार किया कि नॉर्वे के विश्व के नंबर एक मैगनस कार्लसन (Magnus Carlsen) और बाकी खिलाड़ियों के बीच अंतर बहुत ज्यादा है लेकिन कुछ खिलाड़ियों जैसे फैबियानो कारुआना और चीन के डिंग लीरेन ने हाल में अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने कहा, ‘अभी कार्लसन और अन्य के बीच अंतर काफी अधिक है. कारुआना और डिंग ने हाल में अच्छा प्रदर्शन किया है. ’

कार्लसन क्यों खास है, इसके जवाब में आनंद ने कहा, ‘वह असल में अपने कौशल को अंजाम तक पहुंचाने में माहिर है. वह प्रतिभाशाली और कड़ी मेहनत करता है. वह नयी चीजें सीखने के मामले में भी बहुत अच्छा है. ’

50 साल के हुए चेस किंगआनंद (Viswanathan Anand)  ने पहली बार विश्व शतरंज चैंपियनशिप 2000 में जीती. उन्होंने 2003 और 2017 में विश्व रेपिड शतरंज चैंपियनशिप भी जीती. शतरंज में भारत के शीर्ष खिलाड़ी और देश के पहले ग्रैंडमास्टर आनंद (Viswanathan Anand)  ने कई खिलाड़ियों को इस खेल से जुड़ने के लिए प्रेरित किया है. आनंद (Viswanathan Anand)  के जन्मदिन के मौके पर किताब ‘माइंड मास्टर’ का भी विमोचन हुआ जिसे इस दिग्गज खिलाड़ी ने खेल लेखिका सोसन नाइनन के साथ मिलकर लिखा है.

सानिया की बहन ने अजहर के बेटे से की शादी, नहीं आए जीजा शोएब मलिक

नागरिकता बिल पर बवाल और कर्फ्यू, असम-सर्विसेज का रणजी मैच रद्द और ISL मैच टला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 6:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर