पहलवान हत्याकांड मामले में सुशील कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर फैसला सुनाएगी अदालत

छत्रसाल स्टेडियम में हुई 
जूनियर पहलवान के केस में पहलवान सुशील कुमार की अग्र‍िम जमानत याच‍िका पर आज फैसला

छत्रसाल स्टेडियम में हुई जूनियर पहलवान के केस में पहलवान सुशील कुमार की अग्र‍िम जमानत याच‍िका पर आज फैसला

पहलवान सुशील कुमार ने गिरफ्तारी की आशंका के मद्देनजर 17 मई को दिल्ली की रोहिणी अदालत में अग्रिम जमानत के लिए गुहार लगाई थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. छत्रसाल स्टेडियम में झगड़े में एक पहलवान की मौत के सिलसिले में दो बार के ओलंपिक पदक विजेता कुश्ती खिलाड़ी सुशील कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी पर दिल्ली की एक अदालत मंगलवार को फैसला सुनाएगी. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश जगदीश कुमार ने अभियोजन और बचाव पक्ष की दलीलों को विस्तार से सुना और आवेदन पर फैसला सुरक्षित रखा. उन्होंने कहा, ‘‘फैसला आज शाम 4 बजे से पहले सुनाया जाएगा.’’

पहलवान सुशील कुमार ने गिरफ्तारी की आशंका के मद्देनजर 17 मई को दिल्ली की रोहिणी अदालत में अग्रिम जमानत के लिए गुहार लगाई थी. उन्होंने कहा था कि उनके खिलाफ जांच पक्षपातपूर्ण है और उनकी वजह से कोई चोट नहीं लगी. सुनवाई के दौरान पुलिस की ओर से पक्ष रख रहे अतिरिक्त सरकारी अभियोजक अतुल श्रीवास्तव ने इस आधार पर गिरफ्तारी पूर्व जमानत की अर्जी को खारिज करने की मांग की कि आरोपी के खिलाफ इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य हैं.

अभियोजन पक्ष ने यह भी बताया कि फरार चल रहे सुशील कुमार का पासपोर्ट जब्त कर लिया गया ,है क्योंकि आशंका है कि वह देश छोड़कर जा सकते हैं. सुशील कुमार की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने अदालत से कहा कि उनके मुवक्किल को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि पुलिस ने वाहन, हथियार और डंडे समेत सभी चीजें बरामद कर ली हैं.

कुमार की ओर से लूथरा ने कहा, ‘‘ये लोग, जिनके खिलाफ मैं खड़ा हूं, आपराधिक प्रवृत्ति के हैं और मैं उनकी वजह से खामियाजा भुगतूंगा.’’ सुशील कुमार और कुछ अन्य पहलवानों द्वारा चार मई की रात को राष्ट्रीय राजधानी के छत्रसाल स्टेडियम परिसर में कथित रूप से की गयी मारपीट में सागर राणा की मौत हो गयी थी, वहीं सागर के दो दोस्त घायल हो गये.
पुलिस के मुताबिक झगड़े में सुशील कुमार, अजय, प्रिंस दलाल, सोनू, सागर, अमित और अन्य लोग शामिल थे. हरियाणा के झज्जर के रहने वाले दलाल को मामले में हिरासत में ले लिया गया था.इस घटनाक्रम में मॉडल टाउन थाने में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और शस्त्र अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया.

राणा की मौत के बाद से सुशील कुमार फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश में दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र तथा आसपास के राज्यों में छापेमारी कर रही है. दिल्ली पुलिस ने सोमवार को सुशील कुमार के बारे में किसी तरह की जानकारी देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज