लाइव टीवी

Coronavirus से निपटने के लिए आगे आए कोच, अस्‍पताल में कम पड़े स्‍टाफ तो संभाली जिम्‍मेदारी

भाषा
Updated: March 28, 2020, 8:25 PM IST
Coronavirus से निपटने के लिए आगे आए कोच, अस्‍पताल में कम पड़े स्‍टाफ तो संभाली जिम्‍मेदारी
Demo Pic.

राष्ट्रीय एथलेटिक ट्रेनर संघ ने अस्पतालों में मदद मुहैया कराने के लिए एक एप बनाया. जिसमें पिछले हफ्ते से 950 ट्रेनर जुड़ चुके हैं

  • Share this:


वाशिंगटन. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण हर जगह हाहाकर मचा हुआ है. 6 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित है और 27 हजार लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. इसके मामले रोज बढ़ रहे हैं, जिससे अस्‍पताल में जगह तक कम पड़ गई. सिर्फ जगह ही कम नहीं, बल्कि स्‍टाफ की भी कमी पड़ने लगी है. जिसे देखते हुए कोच भी मदद करने जुट गए है. अमेरिका में एथलेटिक ट्रेनर भी कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होकर मदद में जुट गए हैं क्योंकि देश के कई अस्पतालों में स्टाफ की कमी हो रही है.राष्ट्रीय एथलेटिक ट्रेनर संघ ने अस्पतालों में मदद मुहैया कराने के लिए एक एप बनाया, जिसमें पिछले हफ्ते से 950 एथलेटिक ट्रेनर जुड़ चुके हैं. हालांकि काफी ट्रेनर अपने खिलाड़ियों के साथ भी काम कर रहे हैं.

मरीजों की कर रहे हैं स्‍क्रीनिंग
ये ट्रेनर हालांकि चिकित्सीय देखभाल मुहैया नहीं करा सकते, लेकिन ये मरीजों की स्क्रीनिंग कर रहे हैं जिसमें उनके लक्षणों की जांच करना और शरीर का तापमान लेना शामिल है. डेट्राइट्स में हेनरी फोर्ड अस्पताल की सीनियर खेल मेडिसिन डॉक्‍टर राबर्ट एलबर्स ने कहा कि मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए हमें काफी सहायक चाहिए. यह मायने नहीं रखता कि आप सामान्यत कहां काम करते हो. आपको मदद करने के लिए आगे आना चाहिए. हमारे एथलेटिक ट्रेनर जो भी कुछ कर रहे हैं, वह सचमुच काबिले तारीफ है. वैसे एथलेटिक ट्रेनर का काम खिलाड़ियों की चोटों को रोकना, उपचार करना और रिहैबिलिटेशन तथा खेल संबंधित बीमारियों को दूर करना होता है.



कोरोना वायरस (Coronavirus)के कारण दुनियाभर में खेल इवेंट को कुछ समय के लिए स्‍थगित कर दिया गया है. जिस वजह से न तो खिलाड़ी मैदान पर उतर पा रहे हैं और न ही कोच ट्रेनिंग दे पा रहे हैं.



एक साल से दुनियाभर में खौफ फैला रहा ये खिलाड़ी, बल्ले की रफ्तार कर देगी हैरान

बड़ा खुलासा, 'घर' में ट्रेनिंग करके खुद का नुकसान कर रहे हैं भारतीय क्रिकेटर्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 28, 2020, 8:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading