लाइव टीवी

Coronavirus के खिलाफ खेल मंत्रालय का बड़ा कदम, साई सेंटर बनेंगे क्वारंटाइन केंद्र

News18Hindi
Updated: March 22, 2020, 3:54 PM IST
Coronavirus के खिलाफ खेल मंत्रालय का बड़ा कदम, साई सेंटर बनेंगे क्वारंटाइन केंद्र
साई के क्षेत्रीय केंद्रों, स्टेडियमों और हॉस्टल का पृथक केंद्रों के रूप में उपयोग करने का फैसला स्वास्थ्य मंत्रालय के आग्रह के बाद किया गया. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

भारत में अभी तक कोरोना वायरस (Coronavirus) के 300 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2020, 3:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूरी दुनिया में कोरोना वायरस (Coronavirus) से हाहाकार मचा हुआ है. भारत में भी सरकार इसे रोकने की हर संभव कोशिश कर रही है. इसी कदम में खेल मंत्रालय ने बड़ा कदम उठाते हुए साई सेंटर को क्‍वारंटाइन केंद्र में बदलने का फैसला लिया है. खेल मंत्रालय ने रविवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण बंद पड़े भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) केंद्रों का उपयोग इस घातक बीमारी के रोगियों के लिए पृथक केंद्रों के रूप में किया जाएगा. साई के क्षेत्रीय केंद्रों, स्टेडियमों और हॉस्टल का पृथक केंद्रों के रूप में उपयोग करने का फैसला स्वास्थ्य मंत्रालय के आग्रह के बाद किया गया.

साई केंद्र सार्वजनिक संपत्ति
खेल सचिव राधेश्याम जुलानिया ने पीटीआई से कहा कि हां, स्वास्थ्य मंत्रालय के कहने के बाद हमने अपने केंद्रों को पृथक सुविधाओं के रूप में उपयोग करने की अनुमति देने का फैसला किया है. यह महामारी है और सभी साई केंद्र सार्वजनिक संपत्ति हैं. उन्होंने कहा कि यह संकट की स्थिति है और सरकार को जिस तरह के भी सहयोग की जरूरत पड़ेगी, हम उसे उपलब्ध कराने के लिए तैयार हैं.
जुलानिया ने हालांकि यह स्पष्ट नहीं किया कि स्वास्थ्य मंत्रालय कब इन केंद्रों का उपयोग पृथक केंद्र के तौर पर करेगा. साइ के राष्ट्रीय राजधानी में दस क्षेत्रीय केंद्र और पांच स्टेडियम हैं. सरकारी अनुमान के अनुसार इनका उपयोग कम से कम 2000 लोगों के लिए पृथक केंद्र के तौर पर किया जा सकता है. भारत में दिन पर दिन कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. देश में अभी तक 300 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. वहीं इस वायरस के कारण दुनियाभर में 13 हजार के करीब मौतें हो चुकी हैं.



कोरोना वायरस के खौफ के बावजूद जापान में ओलिंपिक को लेकर उत्साह, मशाल देखने पहुंचे हजारों लोग

जिन खेलों का जन्‍मदाता है भारत, अब उनमें दूसरे देशों का दबदबा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2020, 3:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर