लाइव टीवी

Coronavirus: इंटरनेशनल ओलिंपिक समिति की लापरवाही! एक साथ खतरे में पड़े 350 मुक्‍केबाज

भाषा
Updated: March 26, 2020, 8:53 PM IST
Coronavirus: इंटरनेशनल ओलिंपिक समिति की लापरवाही! एक साथ खतरे में पड़े 350 मुक्‍केबाज
तुर्की महासंघ ने कहा कि दिसंबर से इस महामारी के कारण पूरा विश्व सतर्क था, तब उन्होंने ऐसा व्यवहार किया मानो कुछ हुआ ही न हो और टूर्नामेंट स्थगित नहीं किया (सांकेतिक तस्‍वीर )

इन मुक्‍केबाजों ने लंदन में ओलिंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट में हिस्‍सा लिया था, जिनमें से कोच सहित चार लोगों की कोरोना वायरस (Coronavirus) टेस्‍ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है

  • Share this:
इस्तांबुल. तुर्की मुक्केबाजी महासंघ ने लंदन में ओलिंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट के दौरान अपने तीन मुक्केबाजों और कोच के कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण में आने पर गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (आईओसी) और स्थानीय आयोजकों को आड़े हाथों लिया. लंदन में इस प्रतियोगिता में यूरोपीय देशों के लगभग 350 पुरुष और महिला मुक्केबाजों ने हिस्सा लिया था. यह यूरोप से टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाइ करने का पहला मौका था.
तुर्की मुक्केबाजी महासंघ के अध्यक्ष इयुप गोजेक ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति का मुक्केबाजी (Boxing) कार्यबल और लंदन की स्थानीय आयोजन समिति इस आयोजन के लिए जिम्मेदार है. जब दिसंबर से इस महामारी के कारण पूरा विश्व सतर्क था, तब उन्होंने ऐसा व्यवहार किया मानो कुछ हुआ ही न हो और टूर्नामेंट स्थगित नहीं किया. महासंघ ने इससे पहले कहा है कि लंदन में ओलिंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट में भाग लेने वाले राष्ट्रीय टीम के सदस्य सेरहाट गुलेर और ट्रेनर सैफुल्लाह डी कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं.

एक ही होटल में रूके थो टीम से सभी सदस्‍य
महासंघ ने बताया कि मुक्केबाजी टीम तीन मार्च को अभ्यास शिविर के लिए शेफील्ड गई थी और 11 मार्च को लंदन पहुंची. टीम के सभी सदस्य एक ही होटल में रूके थे और एक ही कैफे में खाते थे. मुक्केबाजी के क्वालीफाइंग टूर्नामेंट आईओसी करा रही है, क्योंकि मुक्केबाकी की शीर्ष संस्था एआईबीए निलंबित है. तुर्की की टीम 17 मार्च को लौटी, जब टूर्नामेंट बीच में ही रोक दिया गया. सभी सदस्यों ने खुद को अलग कर लिया था.



हालांकि कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण अब टोक्‍यो ओलिंपिक को ही अगले साल तक के लिए रद्द कर दिया गया है. इस महामारी के कारण दुनियाभर में 21 हजार लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि चार से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं. चीन के वुहान शहर से शुरू हुए इस वायरस ने सबसे ज्‍यादा इटली, स्‍पेन जैसे यूरोपीय देशों को प्रभावित किया है.

Coronavirus :फेडरर ने दान किए 7 करोड़ रुपये, सिंधु ने भी मदद को बढ़ाए हाथ

4 साल पहले लगा था बैन, अब Coronavirus के कारण भारतीय खिलाड़ी को हुआ बड़ा फायदा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 8:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर