ओलिंपिक से पहले ट्रेनिंग में बदलाव ना लाएं नए कोच - अचंत शरत कमल

भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी लंबे समय से बिना कोच के प्रेक्टिस कर रहे हैं, अचंत का मानना है कि ओलिंपिक के बेहद करीब होते हुए नए बदलाव को लागू करना आसान नहीं होगा

Riya Kasana | News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 5:21 PM IST
ओलिंपिक से पहले ट्रेनिंग में बदलाव ना लाएं नए कोच - अचंत शरत कमल
भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंत शरत कमल (ap)
Riya Kasana | News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 5:21 PM IST
टोक्यो में होने वाले अगले ओलिंपिक के लिए अब लगभग एक साल का समय बचा है, ऐसे में सभी फेडरेशंस खिलाड़ियों की तैयारियों को लेकर हर संभव कोशिश करने में जुटी है. हालांकि भारतीय टेबल टेबिस खिलाड़ी अभी भी अपने नए कोच के इंतजार में हैं. भारतीय टीम के हाल के प्रदर्शन को देखकर इस बात का अंदाजा लगाना मुश्किल है कि टीम बिना कोच के ही मेडल ला रही है. भारतीय टीम ने कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में सात गोल्ड के साथ क्लीन स्वीप किया है. टीम के कोच का चयन पहले ही हो चुका है लेकिन वह अब तक टीम के साथ जुड़ नहीं पाए हैं.

लंबे समय से बिना कोच के ही कर रहे हैं प्रेक्टिस

15 साल से टेबल टेनिस में देश का प्रतिनिधित्व करने वाले अचंत शरत कमल ने बताया कि खिलाड़ी सिंगल्स के लिए अपने आप तैयारी कर रहे हैं, लेकिन टीम को डबल्स और मिक्स्ड डबल्स के लिए कोच की जरूरत है. उन्होंने कहा, ' मैं, जी साथियान और मनिका बत्रा सिंगल्स की तैयारी कर रहे हैं लेकिन डबल्स के लिए हमें कोच की जरूरत है.'

table tennis, achanth sharth kamal, g sathiyan, manika batra
भारतीय टीम ने बिना कोच के ही कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में गोल्ज मेडल हासिल किए हैं (twitter)


अचंत का मानना है कि ओलिंपिक के लिए अब बहुत कम समय बचा है ऐसे में नए कोच के लिए कोई बदलाव लागू करना आसान नहीं होगा. कॉमनवेल्थ के गोल्ड मेडलिस्ट ने अचंत ने कहा, 'मैं, साथियान मनिका लंबे समय से अकेले अपने तरीके से ट्रेन कर रहे हैं, ऐसे में कोच के नए सिस्टम को अपनाने में समय लगेगा. ओलिंपिक के लिए समय बहुत कम है ऐसे में हम कोशिश करेंगे कि वह फिलहाल हमारे तरीके से हमें ट्रेन करे और ओलिंपिक के बाद हम सिस्टम में किसी भी तरह के बदलाव के लिए तैयार हैं.' गुरुवार से शुरू होने वाली अलटीमेट टेबल टेनिस लीग की पूर्व संध्या पर बात करते हुए शरत ने बताया कि वह नए कोच डेजन पापिक को लंबे समय से जानते हैं और उन्हें उम्मीद है कि उनके आने से टीम के प्रदर्शन में सुधार होगा.

अल्टीमेट टेबल टेनिस लीग

यूटीटी का तीसरा सीजन गुरुवार से दिल्ली में शुरू होने वाला है. इस सीजन में कई बदलाव किए गए हैं. इस साल तीन नई टीमें लीग में अपने डेब्यू कर रही है. चेन्नई लॉयंस, यू मुंबा और पुणेरी पल्टन पहली बार इस लीग में हिस्सा ले रही हैं.
Loading...

table tennis, achanth sharth kamal, g sathiyan, manika batra
अल्टीमेट टेबल टेनिस लीग में इस बार तीन नई टीमें हिस्सा लेंगी (twitter)


इस बार हर टीम में केवल दो विदेशी खिलाड़ी होंगे. महिला वर्ग और पुरुष वर्ग में हर टीम एक-एक विदेशी खिलाड़ी को ही शामिल किया गया है. वहीं खेल के फॉर्मेट में भी बदलाव किया जा रहा है. इस बार हर मैच में सात की जगह केवल पांच मैच खेले जाएंगे.

इसके साथ ही इस बार सभी खिलाड़ियों का आपस में आमना-सामना होगा जिसका मतलब है कि भारतीय खिलाड़ी एक दूसरे के खिलाफ भी खेलते दिख सकते हैं. शरत ने लीग के बारे में बात करते हुए कहा कि, 'लीग से भारतीय खिलाड़ियों को अपनी पहचान बनाने के मौके मिल रहे हैं. विदेशी खिलाड़ियों के खिलाफ खेलने से युवा खिलाड़ियों को अनुभव मिलता है जो उन्हें नेशनल टीम में मदद पहुंचाता है'. लीग की शुरुआत गुरुवार को दिल्ली से होगी जहां पहले मुकाबले में मौजूदा चैंपियन दबंग दिल्ली का सामना डेब्यू कर रही यू मुंबा से होगा.

'मिशन टोक्यो ओलिंपिक' के लिए महिला हॉकी टीम ने छोड़ दिया ये सब कुछ...

Japan Open 2019: पहले ही राउंड में प्रणॉय ने किया श्रीकांत को बाहर

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 5:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...