पूर्व भारतीय हॉकी कोच हरेंद्र सिंह अमेरिकी पुरुष टीम के मुख्य कोच बने

हरेंद्र सिंह को अमेरिकी पुरुष टीम का नया मुख्य कोच नियुक्त किया (Hockey India/Twitter)

हरेंद्र सिंह को अमेरिकी पुरुष टीम का नया मुख्य कोच नियुक्त किया (Hockey India/Twitter)

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कोच हरेंद्र सिंह को अमेरिकी पुरुष टीम का नया मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. हरेंद्र ने अपने करियर के दौरान भारतीय राष्ट्रीय पुरुष और महिला दोनों टीमों को कोचिंग दी.

  • Share this:
कोलोराडो स्प्रिंग्स (अमेरिका). भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कोच हरेंद्र सिंह को अमेरिकी पुरुष टीम का नया मुख्य कोच नियुक्त किया गया है. हरेंद्र ने अपने करियर के दौरान भारतीय राष्ट्रीय पुरुष और महिला दोनों टीमों को कोचिंग दी. वर्ष 2012 में द्रोणाचार्य पुरस्कार से नवाजे गए हरेंद्र 2017 से 2018 तक सीनियर भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कोच रहे. इससे पहले वह कुछ समय के लिए भारतीय महिला टीम के कोच भी थे.

टीम यूएसए की ओर से जारी बयान में हरेंद्र ने कहा, ''अमेरिकी पुरुष राष्ट्रीय टीम को कोचिंग का रोमांचक मौका देने के लिए धन्यवाद.'' हरेंद्र टीम के साथ अपने कार्यकाल के दौरान अपने परिवार के साथ अमेरिका में ही रहेंगे. अमेरिकी महासंघ ने कार्यकाल के समय का खुलासा नहीं किया है.

हरेंद्र ने हा, ''निजी ट्रेनिंग कार्यक्रम तैयार करने से निश्चित तौर पर टीम को मदद मिलेगी जिसमें अपनी प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत से विश्व हॉकी की तालिका में बदलाव लाने की क्षमता है.''

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने हरेंद्र के मार्गदर्शन में 2018 में ओमान के मस्कट में एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी में गोल्ड मेडल जीता था. उनके मार्गदर्शन में टीम ने भुवनेश्वर में 2018 पुरुष विश्व कप में पांचवां स्थान हासिल किया. पुरुष टीम ने 2018 चैंपियन्स ट्रॉफी में सिल्वर और 2018 एशियाई खेलों में ब्रॉन्ज पदक भी हासिल किया.
हरेंद्र के मार्गदर्शन में भारतीय महिला टीम ने भी 2017 एशिया कप में गोल्ड मेडल जीता. उन्हें राष्ट्रीय जूनियर टीमों को कोचिंग का अनुभव भी हासिल है. उनके मार्गदर्शन में भारत ने 2016 पुरुष जूनियर विश्व कप में गोल्ड मेडल जीता. हरेंद्र को जूनियर और सीनियर स्तर की राष्ट्रीय टीमों को 350 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मैचों में कोचिंग का अनुभव है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनके मार्गदर्शन में टीमों ने आठ गोल्ड, पांच सिल्वर और नौ ब्रॉन्ज मेडल जीते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज