फॉर्म के आधार पर टोक्यो ओलंपिक के लिए अपने घोड़े का चयन करेंगे फवाद मिर्जा

फवाद मिर्जा ने पिछले साल ओलंपिक कोटा हासिल किया था (Fouaad Mirza/Instagram)

फवाद मिर्जा ने पिछले साल ओलंपिक कोटा हासिल किया था (Fouaad Mirza/Instagram)

बेंगलुरु के 29 वर्षीय मिर्जा ने पिछले साल ओलंपिक का कोटा हासिल किया था और वह दो दशक से अधिक समय में ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने वाले भारत के पहले घुड़दौड़ खिलाड़ी बन गए हैं.

  • Share this:

कोलकाता. भारतीय घुड़दौड़ खिलाड़ी फवाद मिर्जा ने अभी तय नहीं किया है कि टोक्यो ओलंपिक में कौन सा घोड़ा उनके साथ जाएगा. उन्होंने कहा कि इस महीने के आखिर में प्रविष्टि जमा करने के समय जो भी फॉर्म में होगा, वह उसे ले जाएंगे. मिर्जा के पास इस महीने के आखिर तक का समय है, जिसमें वह अपने दोनों घोड़ों में से एक का चयन करेंगे.

बेंगलुरु के 29 वर्षीय मिर्जा ने पिछले साल ओलंपिक का कोटा हासिल किया था और वह दो दशक से अधिक समय में ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने वाले भारत के पहले घुड़दौड़ खिलाड़ी बन गए हैं. फवाद मिर्जा ने आनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''अभी मैने तय नहीं किया है. जून के आखिर में प्रविष्टि भेजने के समय फैसला लूंगा. दोनों शानदार फॉर्म में है और इस समय एक का चयन मुश्किल है.''

इस समय जर्मनी में अभ्यास कर रहे मिर्जा ओलंपिक में इवेंटिंग में व्यक्तिगत कोटा हासिल करने वाले तीसरे भारतीय घुड़दौड़ खिलाड़ी हैं.उनसे पहले इंद्रजीत लांबा और इम्तियाज अनीस यह कमाल कर चुके हैं. एशियाई खेलों में दोहरे रजत पदक विजेता मिर्जा ने कहा, ''यह पूरी तरह से घोड़े के फॉर्म पर निर्भर करेगा. जो सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में होगा, वही जाएगा.''

ओलंपिक में एक घुड़दौड़ खिलाड़ी एक से अधिक घोड़े ले जा सकता है, लेकिन प्रतिस्पर्धा के लिये एक को चुनना होता है. टोक्यो जाने से पहले घोड़े एक सप्ताह पृथकवास में रहेंगे और तोक्यो में उन्हें बायो बबल में रहना होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज