मंच पर एक साथ नजर आएंगी महिला बैडमिंटन की चार पीढ़ियां, दिग्‍गज तिकड़ी के साथ होगी पीवी सिंधु

मंच पर एक साथ नजर आएंगी महिला बैडमिंटन की चार पीढ़ियां, दिग्‍गज तिकड़ी के साथ होगी पीवी सिंधु
पीवी सिंधु ओलिंपिक में रजत पदक जीत चुकीं हैं.

चारों पीढ़ी देश में बैडमिंटन के इतिहास, वर्तमान और भविष्‍य पर चर्चा करेंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 1, 2020, 2:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने पूरी दुनिया को घर में कैद कर दिया है. ऐसे में लोग एक दूसरे से जुड़े रहने के लिए, अनुभव शेयर करने के लिए, अपनी बात रखने के लिए वर्चुअल दुनिया की मदद ले रहे हैं और अब इस वर्चुअल दुनिया के ही मंच पर देश में महिला बैडमिंटन को पहचान दिलाने में बड़ी भूमिका निभाने वाली चार पीढ़ियां एक साथ नजर आएंगी और इस खेल से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करेंगी. दो अगस्‍त यानी रविवार को एक वेबिनार में महिला बैडमिंटन की चार पीढ़ी साथ आएंगी. अपने समय की चार दिग्‍गज खिलाड़ी चैट शो के दौरान भारत में इस खेल के इतिहास, वर्तमान और भविष्‍य पर बात करेंगी.

दिग्‍गज तिकड़ी के साथ होंगी पीवी सिंधु
दिल्‍ली कैपिटल्‍स बैडमिंटन एसोसिएशन की अध्‍यक्ष और नेशनल चैंपियन रह चुकी अमिता सिंह इस इवेंट की मेजबानी करेंगी और दिग्‍गज खिलाड़ी अमि शाह, मधुमिता बिष्‍ट और पीवी सिंधु गेस्‍ट स्‍पीकर होंगी. अमिता का कहना कि 1970 से 2020 के बीच हर एक पसीने की बूंद के पीछे एक कहानी है.
अमि शाह की बात करें तो उन्‍होंने 1970 से 1980 के बीच नेशनल में सात सिंगल, चार मिक्‍स्‍ड और 12 युगल खिताब जीते हैं. 1976 में उन्‍हें अर्जुन अवॉर्ड से सम्‍मानित किया गया था.
यह भी पढ़ें: 



डोपिंग करने में बेटे की मदद की, तीन बार के ओलिंपियन को मिली 10 साल की 'सजा'

इंस्‍टाग्राम पर सबसे ज्‍यादा फॉलोअर्स वाले पहले भारतीय बने विराट कोहली, दूसरे नंबर पर प्रियंका चोपड़ा

मधुमिता टीम इंडिया की कोच थीं, उन्‍होंने 1980 से 1990 के बीच 12 मिक्‍स्‍ड डबल्‍स और नौ सिंगल खिताब जीते. जबकि अमिता ने चार नेशनल खिताब जीते. पीवी सिंधु (PV Sindhu) दिग्‍गजों की इस तिकड़ी से जुड़ेंगी. सिंधु की बात करें तो उन्‍होंने रियो ओलिंपिक में सिल्‍वर मेडल जीता. वर्ल्‍ड चैंपियनशिप का खिताब जीता और अब उनसे टोक्‍यो ओलिंपिक में उम्‍मीद हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading