French Open 2021: कोरोना पॉजिटिव होने पर मेंस डबल्स के दो खिलाड़ियों को हटाया गया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक क्रोएशिया के निकोला मेटकिक (बाएं) और मेट पाविक की टॉप सीड जोड़ी कोरोना संक्रमित है. हालांकि, फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने इनका नाम सार्वजनिक नहीं किया है. (Nikola mektic twitter)

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक क्रोएशिया के निकोला मेटकिक (बाएं) और मेट पाविक की टॉप सीड जोड़ी कोरोना संक्रमित है. हालांकि, फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने इनका नाम सार्वजनिक नहीं किया है. (Nikola mektic twitter)

फ्रेंच ओपन 2021 (French Open 2021) में हिस्सा लेने वाले मेंस डबल्स के दो खिलाड़ियों की कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके बाद दोनों को टूर्नामेंट से हटा दिया गया है. फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने ये जानकारी दी. फिलहाल, ये दोनों खिलाड़ी क्वारंटीन में हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. फ्रेंच ओपन 2021 (French Open 2021) पर भी कोरोना का खतरा मंडराने लगा है. मेंस डबल्स के दो खिलाड़ी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. इन दोनों को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया है. फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने ये जानकारी दी. एफटीटी ने बताया कि ये दो खिलाड़ी एक ही टीम के हैं, लेकिन उनका नाम सार्वजनिक नहीं किया. हालांकि, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक क्रोएशिया की निकोला मेटकिक और मेट पाविक की टॉप सीड जोड़ी कोरोना संक्रमित है. इस जोड़ी को फ्रेंच ओपन डबल्स जीतने का मजबूत दावेदार माना जा रहा था.

फ्रेंच ओपन के आयोजकों ने एक बयान जारी कर बताया कि मेंस डबल्स के दो खिलाड़ियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. टूर्नामेंट के हेल्थ और कोरोना सेफ्टी प्रोटोकॉल के तहत दोनों खिलाड़ियों को ड्रॉ से हटा दिया गया और फिलहाल वो क्वांरटीन में हैं. स्काय स्पोर्ट्स के मुताबिक, इनकी जगह स्पेन के पेड्रो मार्टिनेज और पाब्लो एंडुजर की जोड़ी को डबल्स के ड्रॉ में शामिल किया जाएगा.

एफटीटी ने बताया कि फ्रेंच ओपन की शुरुआत से अब तक खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ की कोरोना संक्रमण की जांच के लिए 2,446 टेस्ट किए जा चुके हैं. यह पहली घटना है, जिसमें टूर्नामेंट के आयोजकों को स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार खिलाड़ियों को हटाना पड़ा. वहीं, एक और डबल्स जोड़ी जैम मुनार और फेलिसियानो लोपेज़ ने भी टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया है.

फ्रेंच ओपन एक हफ्ते देरी से शुरू हुआ
बता दें कि फ्रेंच ओपन 2021 एक हफ्ते की देरी से शुरू हुआ है. पहले क्ले कोर्ट का ये टूर्नामेंट 23 मई से शुरू होना था. फ्रेंच ओपन की शुरुआत में हर दिन करीब साढ़े हजार दर्शकों को एंट्री दी जा रही थी. टूर्नामेंट के आखिरी राउंड के मुकाबले में दर्शकों की संख्या में इजाफा होने की उम्मीद थी. पिछले साल भी कोरोना के साए में सितंबर में फ्रेंच ओपन हुआ था. तब रोज एक हजार दर्शकों को स्टेडियम में एंट्री दी गई थी.

ओसाका भी फ्रेंच ओपन से हटीं

इससे पहले, महिला वर्ग में दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने पहले मैच के बाद फ्रेंच ओपन से हटने का ऐलान किया था. उन पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल नहीं होने की वजह से बड़ा जुर्माना लगाया था. इससे आहत ओसाका ने कहा था कि वो लंबे वक्त से डिप्रेशन से जूझ रही हैं और इसी कारण से वो मीडिया के सामने नहीं आईं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज