लाइव टीवी

जिस अभिनव बिंद्रा पर ट्रायल की बात पर भड़कीं थी मैरीकॉम, उन्होंने ही दी जीत की बधाई

News18Hindi
Updated: December 29, 2019, 4:30 PM IST
जिस अभिनव बिंद्रा पर ट्रायल की बात पर भड़कीं थी मैरीकॉम, उन्होंने ही दी जीत की बधाई
अभिनव बिंद्रा भारत को ओलिंपिक में एकमात्र व्यक्तिगत गोल्ड मेडल दिलाने वाले खिलाड़ी हैं (फाइनल फोटो)

निकहत जरीन ने जब ट्रायल की मांग की थी तब ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने उन्हें सही बताया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 29, 2019, 4:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत की स्टार मुक्केबाज मैरीकॉम (Mary Kom) ने दिल्ली में ओलिंपिक क्वालिफायर के लिए हुए ट्रायल में निकहत जरीन (Nikhat Zareen) को मात देकर अपनी जगह पक्की की. निकहत  (Nikhat Zareen) और मैरीकॉम (Mary Kom) के बीच इस मुकाबले को लेकर पहले से ही काफी विवाद चल रहा था. बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (Boxing Federation of India) ने मैरीकॉम (Mary Kom) को जब बिना ट्रायल के ही ओलिंपिक क्वालिफायर में भेजने का फैसला किया  था तब निकहत ने इसका विरोध किया था. उस समय भारत के ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने निकहत को सही बताया था. हालांकि मैरीकॉम की जीत के बाद बिंद्रा ने उन्हें जीत की बधाई दी थी.

बिंद्रा ने मैरीकॉम को बताया चैंपियन
बिंद्रा (Abhinav Bindra)  ने मैरीकॉम (Mary Kom)  की जीत पर ट्वीट करके लिखा, 'खेल के बारे में सबसे बड़ी बात यह है कि आपको यहां खुद को बार-बार साबित करने पड़ता है. आपको को हर रोज हर समय खुद को साबित करना पड़ता है. आपको मुबारक हो मैरीकॉम. आप एक चैंपियन हैं टोक्यो के लिए शुभकामनाएं.'





बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने जब निकहत का साथ दिया था तब मैरीकॉम (Mary Kom)  नाराज हुई थी और उन्होंने कहा था , 'बिंद्रा ओलिंपिक स्वर्ण पदक जीत चुके हैं, लेकिन मैंने भी विश्व चैम्पियनशिप में कई स्वर्ण पदक जीते हैं. मुक्केबाजी में हस्तक्षेप या दखल देना, उनका इससे कोई लेना देना नहीं है. मैं निशानेबाजी के बारे में बात नहीं करती इसलिए उनके लिए बेहतर यही होगा कि वह मुक्केबाजी पर चुप रहें. वह मुक्केबाजी के नियम नहीं जानते.'



ट्रायल मुकाबले के बाद भी दिखा मैरीकॉम का गुस्सा
ट्रायल मुकाबला जीतने के बाद मैरीकॉम (Mary Kom)  काफी नाराज थी. उन्होंने कहा, ‘मैं भी इंसान हूं, मैं भी चिढ़ जाती हूं. जब इस तरह से मेरी उपलब्धियों पर सवाल उठाये जाते हैं तो क्या मैं गुस्सा नहीं हो सकती? और ऐसा पहली बार नहीं था.

mary kom, nikhat zareen,boxing
मैरीकॉम ने निकहत जरीन को ओलिंपिक क्वालिफायर में दी मात


यह मेरे साथ कई बार हो चुका है जबकि किसी अन्य मुक्केबाज ने वो हासिल नहीं किया जो मैंने किया है.’  उन्होंने कहा, ‘प्रदर्शन करो और मेरी जगह आओ, कौन आपको रोक रहा है? लेकिन इससे पहले ज्यादा बोलो मत. अगर आप ऐसा करो तो मैं आपको करारा जवाब दूंगी. इसे मेरे लिये ‘मीडिया ट्रायल’ क्यों बना दिया गया.’ वहीं जरीन (Nikhat Zareen) ने कहा कि वह इस हार के बाद मजबूत वापसी करेंगी. उन्होंने कहा, ‘मुझे और मौका मिलेगा और मैं खुद को साबित करूंगी. अगर वह फरवरी ओलिंपिक क्वालिफायर से क्वालीफाई नहीं करती हैं तो मैं फिर से मई में होने वाले क्वालिफायर के ट्रायल के लिये खेलूंगी.’

पाकिस्तान के दिग्गज कप्तान ने कहा- मुसलमान नहीं हिंदू खिलाड़ी को मौका दिया

सौरव गांगुली का बड़ा बयान- पहली नजर में ही हरभजन सिंह से प्यार हो गया था!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 29, 2019, 4:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading