ICC World Cup: वह छह गेंदें, जिन्होंने भारतीय बॉलिंग को पहचान दी

चेतन शर्मा ने 1987 में न्यूजीलैंड के खिलाफ और शमी ने अफगानिस्तान के खिलाफ ली हैट्रिक

News18Hindi
Updated: June 23, 2019, 11:20 AM IST
ICC World Cup: वह छह गेंदें, जिन्होंने भारतीय बॉलिंग को पहचान दी
चेतन शर्मा ने 1987 में न्यूजीलैंड के खिलाफ और शमी ने अफगानिस्तान के खिलाफ ली हैट्रिक
News18Hindi
Updated: June 23, 2019, 11:20 AM IST
भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अफगानिस्तान के खिलाफ हैट्रिक लेकर इतिहास रच दिया. विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले वह दूसरे भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. उनसे पहले यह चेतन शर्मा ने उपलब्धि हासिल की थी. चेतन शर्मा ने 1987 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ हैट्रिक ली थी. उनकी उन तीन गेंदों ने क्रिकेट की दुनिया में भारतीय बॉलिंग की एक अलग धाक जमाई और अब 32 साल बाद शमी ने हैट्रिक लेकर एक बार दुनिया को बता दिया कि वो भारत का अटैक अब और भी खतरनाक हो गया है.

जानिए उन छह गेंदों के बार में, जिससे विपक्षियों बल्लेबाजों के मन में पैदा हो गया भारतीय अटैक का खौफ

चेतन शर्मा ने हैट्रिक अक्टूबर 1987 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ ली थी.पहले बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम ने 41 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 182 रन बना लिए थे. केन रदरफोर्ड 26 रन बनाकर खेल रहे थे. मनोज प्रभाकर ने पांच ओवर बचे थे. लेकिन यहां कपिल देव ने चौंकाने वाला फैसला और पिछले पांच ओवर में काफी महंगे साबित हुए चेतन शर्मा को गेंद थमा दी. 42वें ओवर में अटैक पर चेतन आए, जो उनका छठा ओवर था. शुरुआती तीन गेंदों पर एक भी रन नहीं दिया और अगली तीन गेंदों पर तो उन्होंने वो कर दिखाया, जिससे उनका नाम आज तक याद किया जाता है.



42.4: रदरफोर्ड स्ट्राइक पर थे. चेतन शर्मा ने अपने ओवर की चौथी गेंद फेंकी. जो तेज रफ्तार ऑफ कटर थी. बल्लेबाज ने यहां डिफेंस करने की कोशिश की, लेकिन वह क्लीन बोल्ड हो गए. गेंद सीधे मिडिल स्टंप पर लगी.

42.5: रदरफोर्ड के पवेलियन लौटने के बाद स्ट्राइक पर आए विस्फोटक बल्लेबाज इयान स्मिथ. चेतन शर्मा ने इस बार तेज इन कटर गेंद फेंकी, जिसने बल्लेबाज को चकमा देते हुए ऑफ स्टंप उखाड़ दिया.

42.6: फिर आए एवेन चैटफील्ड. यहां पर चेतन शर्मा ने पास इतिहास रचने का मौका था. इस गेंद को डालने से पहले कप्तान के साथ उनकी काफी देर बात हुई. फिर उन्होंने फुल लेंथ गेंद डाली, जिसे खेलने के लिए चैटफीलड अक्रास आ गए और गेंद ने लेग स्टंप उखाड़ दिया. हैट्रिक के दौरान चेतन ने तीनों स्टंप उखाड़े थे.
Loading...

अफगानिस्तान के खिलाफ मोहम्मद शमी ने आखिरी ओवर करवाया. इस ओवर से पहले उन्होंने नौ ओवर में 36 रन देकर एक विकेट लिया. आखिरी ओवर की पहली गेंद पर मोहम्मद नबी ने चौका लगाकर शमी का स्वागत किया. दूसरी गेंद पर शमी ने कोई रन नहीं दिया. इसके बाद वाली गेंद पर शुरू हुआ शमी का खेल.

49.3: मोहम्‍मद शमी ने यॉर्कर डाली. इस पर नबी ने बड़ा शॉट लगाना चाहा और गेंद लॉन्‍ग ऑन पर गई. यहां खड़े हार्दिक पंड्या ने बड़े आराम से कैच को लपक लिया.

49.4: शमी के सामने अब आफताब आलम थे. शमी ने एक बार फिर से यॉर्कर से हमला किया. आलम ने भी जगह बनाकर शॉट लगाना चाहा.आलम पीछे हट गए और स्वीप लगाने का प्रयास किया. लेकिन असफल रहे और गेंद मिडि और लेग स्टंप के बीच लग गई.

49.5: लगातार दो गेंद में दो विकेट लेकर मोहम्‍मद शमी हैट्रिक पर थे. मुजीब उर रहमान स्‍ट्राइक पर थे. शमी ने एक बार फिर से वही गेंद डाली, जिन पर पहले लगातार दो विकेट गिरे थे. शमी की रणनीति काम आई. और वे भी बोल्‍ड हो गए. इसी के साथ शमी ने इतिहास बना दिया. पूरा भारतीय खेमा खुशी से झूम उठा.
First published: June 23, 2019, 10:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...