Home /News /sports /

दीपक अगर याजदानी से भिड़ता है तो इस बार अलग होगा मुकाबला: कोच वीरेंदर

दीपक अगर याजदानी से भिड़ता है तो इस बार अलग होगा मुकाबला: कोच वीरेंदर

दीपक पूनिया हसन याजदानी को अपना आदर्श मानते हैं (Deepak Punia/Instagram)

दीपक पूनिया हसन याजदानी को अपना आदर्श मानते हैं (Deepak Punia/Instagram)

दीपक का सामना पहली बार इस ईरानी पहलवान से 2019 विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में होना था, लेकिन भारतीय पहलवान ने पैर की चोट के कारण इसमें मैट पर नहीं उतरने का फैसला किया था.

    नई दिल्ली. दीपक पूनिया के कोच वीरेंदर कुमार का मानना है कि अगर टोक्यो ओलंपिक के ड्रॉ में भारतीय पहलवान का सामना फिर से ईरान के महान पहलवान हसन याजदानी से होता है तो यह मुकाबला देखने वाला होगा. दीपक 2016 ओलंपिक चैम्पियन और दो बार के विश्व चैम्पियन याजदानी को अपना आदर्श मानते हैं. कोच का कहना है कि दीपक के अंदर अपने आदर्श के खिलाफ मैट पर उतरने की हिचकिचाहट अब खत्म हो गई है.

    दीपक का सामना पहली बार इस ईरानी पहलवान से 2019 विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में होना था, लेकिन भारतीय पहलवान ने पैर की चोट के कारण इसमें मैट पर नहीं उतरने का फैसला किया था. इससे याजदानी जीत गये थे. इस साल अप्रैल में अलमाटी में एशियाई चैम्पियनशिप के स्वर्ण पदक मुकाबले में याजदानी दूसरी बार उनके सामने थे. लेकिन याजदानी के सामने दीपक का डिफेंस आसानी से बिखर गया और ईरानी पहलवान ने तकनीकी श्रेष्ठता से जीत हासिल की.

    वीरेंदर ने मार्मुरपुर में अपनी अकादमी से पीटीआई से साक्षात्कार में कहा, ''आप जिस पहलवान को आदर्श मानते हुए बड़े हुए हो और उसे अपने सामने पाकर घबरा जाना लाजमी ही है. लेकिन अब हिचकिचाहट पुरानी बात हो गई है. उसने एशियाई फानइल के मुकाबले के बारे में मुझसे चर्चा की थी और इस तरह के मुकाबले के लिए एक योजना बनाई गई है.''

    उन्होंने कहा, ''याजदानी ने अपने से सीनियर पहलवानों को हराकर ही प्रगति की और यह दर्जा प्राप्त किया. इसलिए ऐसा नहीं है कि उसे हराया नहीं जा सकता. इस बार अगर दीपक को उससे भिड़ने का मौका मिलता है तो वह पूरी तरह तैयार होगा.''

    उन्होंने कहा, ''सुशील और साक्षी ओलंपिक पदक जीतने के लिए दावेदारों में शामिल नहीं थे, लेकिन उन्होंने ऐसा किया. तो याजदानी से भिड़ने की योजना क्या है तो वीरेंदर ने कहा, ''याजदानी लंबा है और अपने प्रतिद्वंद्वियों को भ्रमित करने के लिए हाथों का अच्छा इस्तेमाल करता है. दीपक उसके सामने खड़ा रहा और यह उसकी गलती थी. अब उसे आगे के बजाय इधर उधर होकर हमला करना होगा.''

    Tags: Coach Virender Kumar, Deepak Punia, Hassan Yazdani, Olympics, Olympics 2020, Tokyo 2020, Tokyo Olympics, Tokyo Olympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर