होम /न्यूज /खेल /टोक्यो ओलंपिक में क्वालिफाई करने से चूके, अब 'अर्जुन' की तरह निशाना लगाकर पहला गोल्ड जीता

टोक्यो ओलंपिक में क्वालिफाई करने से चूके, अब 'अर्जुन' की तरह निशाना लगाकर पहला गोल्ड जीता

ISSF World cup: भारत के अर्जुन बबूता ने शूटिंग विश्व कप में अपना पहला गोल्ड मेडल जीता. (@PBNS_India)

ISSF World cup: भारत के अर्जुन बबूता ने शूटिंग विश्व कप में अपना पहला गोल्ड मेडल जीता. (@PBNS_India)

ISSF World cup: दक्षिण कोरिया के चांगवोन में चल रही आईएसएसएफ विश्व कप शूटिंग प्रतियोगिता में अर्जुन बबूता ने 10 मीटर एय ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. भारत के 23 साल के अर्जुन बबुता ने सोमवार को दक्षिण कोरिया के चांगवोन में आईएसएसएफ विश्व कप में पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल इवेंट का गोल्ड मेडल जीता. यह अर्जुन का पहला सीनियर इंटरनेशनल मेडल है. अर्जुन ने गोल्ड मेडल राउंड में अमेरिका के लुकास कोजेनिस्की को 17-9 से हराया. उन्होंने क्वालीफाइंग में 630. 5 का स्कोर किया था और फिर 261.1 के साथ रैंकिंग राउंड में शीर्ष पर रहते हुए स्वर्ण पदक मैच के लिए जगह बनाई. लुकास ने पिछले साल टोक्यो ओलंपिक में 10 मीटर एयर राइफल मिश्रित स्पर्धा का रजत पदक जीता था.

अर्जुन ने अजरबैजान में हुए 2016 के जूनियर विश्व कप में स्वर्ण पदक जीता था. लेकिन, इसके बाद ऐसा लग रहा था कि वो अपनी लय खो चुके हैं. वो टोक्यो ओलंपिक के लिए भी क्वालिफाई नहीं कर पाए थे.

पिता नीरज बबूता ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “अर्जुन पिछले सात-आठ सालों से अच्छी शूटिंग कर रहा है और कड़ी मेहनत कर रहा है. उसने पिछले कुछ सालों में जबरदस्त ताकत और मानसिक मजबूती दिखाई है. टोक्यो ओलंपिक में जगह नहीं बना पाना, अर्जुन के लिए दिल तोड़ने वाला था. हालांकि, वो इस नाकामी के बाद भी सकारात्मक रहा और शूटिंग रेंज और अधिक वक्त बिताने लगा. ज्यादा ट्रेनिंग के कारण, उसकी पीठ में भी चोट लग गई थी. महीनों इलाज कराना पड़ा. लेकिन अर्जुन हिम्मती लड़का है और उसने जबरदस्त वापसी की. आज जो उसने मेडल जीता है, यह शूटिंग को लेकर उसकी मेहनत और समर्पण का नतीजा है.”

यह भारत के विदेशी राइफल कोच के रूप में थॉमस फारनिक का इंटरनेशनल इवेंट में पहला मेडल है. ऑस्ट्रेलिया के थॉमस को विश्व कप से कुछ दिन पहले ही भारतीय राइफल टीम का कोच बनाया गया है.

Tags: Indian Shooting Team, Issf world cup, Sports news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें