भारत एक मई को पहली बार करेगा WBC इंडिया चैंपियनशिप की मेजबानी

यह मुकाबला देश की पहली पेशेवर यूएसए मुक्केबाजी प्रतियोगिता होगी (File Photo)

यह मुकाबला देश की पहली पेशेवर यूएसए मुक्केबाजी प्रतियोगिता होगी (File Photo)

विश्व मुक्केबाजी परिषद (डब्ल्यूबीसी) ने एक मई को जालंधर में चांदनी मेहरा और सुमन कुमारी के बीच इंडियन चैंपियनशिप मुकाबले का समर्थन किया है, जिसे देश में पेशेवर मुक्केबाजी में बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. विश्व मुक्केबाजी परिषद (डब्ल्यूबीसी) ने एक मई को जालंधर में चांदनी मेहरा और सुमन कुमारी के बीच इंडियन चैंपियनशिप मुकाबले का समर्थन किया है, जिसे देश में पेशेवर मुक्केबाजी में बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है.

यहां जारी विज्ञप्ति के मुताबिक लाइटवेट 140 पाउंड (लगभग 63.5 किग्रा) भार वर्ग का ‘एलजेड प्रमोशन इंडिया अनलीश्ड-फाइट नाइट’ के नाम से होने वाला मुकाबला देश की पहली पेशेवर यूएसए मुक्केबाजी प्रतियोगिता होगी.

चांदनी और सुमन क्रमश: लाइटवेट और फेदरवेट वर्ग में देश के शीर्ष पेशेवर मुक्केबाज है और अब दोनों इस ऐतिहासिक मुकाबले में एक-दूसरे को चुनौती देंगी. इन दोनों मुक्केबाजों की कोशिश पुरुष एवं महिला वर्ग में देश का पहला डब्ल्यूबीसी इंडिया चैम्पियन बनने की होगी.

डब्ल्यूबीसी उन चार प्रमुख संगठनों में से एक है जो विश्व स्तर पर पेशेवर मुक्केबाजी मुकाबलों का अनुमोदन करता है.
एलजेड प्रमोशन एवं और इंडिया अनलीश्ड प्रमोटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पार्म गोराया ने कहा, ''इससे भारत में पेशेवर मुक्केबाजी में बड़ा बदलाव आयेगा. मेरा मानना है कि पुरुष और महिला वर्ग की पेशेवर मुक्केबाजी में समान रूप से बड़ी संभावनाएं हैं. मेरी कोशिश भारत की पहली विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप (पुरुष और महिला) को बढ़ावा देने की है.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज