Home /News /sports /

भारत ने एशियाई युवा पैरा खेलों में जीते 41 मेडल, सबसे ज्यादा मेडल एथलेटिक्स में

भारत ने एशियाई युवा पैरा खेलों में जीते 41 मेडल, सबसे ज्यादा मेडल एथलेटिक्स में

भारत ने सबसे ज्यादा मेडल एथलेटिक्स में हासिल किए (Deepa Malik/Twitter)

भारत ने सबसे ज्यादा मेडल एथलेटिक्स में हासिल किए (Deepa Malik/Twitter)

भारतीय पैरा बैडमिंटन खिलाड़ियों ने 15 मेडल जीते हैं, जिसमें टोक्यो पैरालंपिकयन पलक कोहली, संजना कुमारी और हार्दिक मक्कड़ ने तीन तीन मेडल जीते.

    नई दिल्ली. भारतीय पैरा एथलीट एशियाई युवा पैरा खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर बुधवार को 41 मेडल लेकर बहरीन से लौटे. भारतीय दल ने रिफा शहर में हुए महाद्वीपीय पैरा युवा खेलों में 12 गोल्ड, 15 सिल्वर और 14 ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किए.

    भारत ने सबसे ज्यादा मेडल एथलेटिक्स में हासिल किए. जिसमें 22 खिलाड़ी – आठ गोल्ड, छह सिल्वर और आठ ब्रॉन्ज – पोडियम स्थान पर पहुंचे. भारतीय पैरा बैडमिंटन खिलाड़ियों ने 15 मेडल जीते हैं, जिसमें टोक्यो पैरालंपिकयन पलक कोहली, संजना कुमारी और हार्दिक मक्कड़ ने तीन तीन मेडल जीते.

    तैराकी में तीन जबकि पावरलिफ्टिंग में एक मेडल प्राप्त किया. दो से छह दिसंबर तक आयोजित हुए इस टूर्नामेंट में 30 देशों के 700 से ज्यादा एथलीट हिस्सा लेने पहुंचे थे.

    बता दें कि टोक्यो पैरालंपिक में भारत का ऐतिहासिक प्रदर्शन रहा था. 5 गोल्ड समेत कुल 19 मेडल भारत के खाते में आए थे. भारत ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 5 गोल्ड, 8 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज मेडल जीतकर 24वां स्थान हासिल किया था.

    भारतीय खिलाड़ियों ने इस दौरान एथलेटिक्स में सबसे ज्यादा आठ, शूटिंग में पांच, बैडमिंटन में चार, टेबल टेनिस और तीरंदाजी में एक-एक मेडल जीते. पैरालंपिक खेलों के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ, जब भारत की मेडल संख्या दोहरे अंकों में पहुंची. इससे पहले भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2016 के रियो पैरालंपिक में रहा था, जहां उसने 2 गोल्ड समेत 4 मेडल जीते थे.

    Tags: Asian Youth Para Games, Indian para athletes

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर