पैरा एशियाई खेलों में भारत ने जीते 15 गोल्‍ड सहित 72 मेडल, अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

पैरा एशियाई खेलों में भारत ने जीते 15 गोल्‍ड सहित 72 मेडल, अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन
एशियाई पैरा खेलों के आखिरी दिन भारत के सभी पांचों पदक बैडमिंटन से आए. (Photo: SAI media)

पैरा एथलेटिक्स ने भारत को आधे पदक (36) दिलाए, जिसमें सात स्वर्ण, 13 रजत और 16 कांस्य शामिल रहे. बैडमिंटन और शतरंज में नौ-नौ जबकि पैरा तैराकी में आठ पदक मिले.

  • Share this:
भारत ने एशियाई पैरा खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 72 पदक अपनी झोली में डाले जिसमें 15 स्वर्ण शामिल रहे. बैडमिंटन खिलाड़ियों ने शनिवार को प्रतियोगिता के अंतिम दिन दो स्वर्ण और तीन कांस्य पदक जीते. भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्य पदक से कुल 72 पदक से तालिका में नौंवे स्थान पर काबिज रहा.

चीन 172 स्वर्ण, 88 रजत और 59 कांस्य से कुल 319 पदक हासिल कर तालिका में शीर्ष पर था जबकि दक्षिण कोरिया (53 स्वर्ण, 45 रजत और 47 कांस्य) और ईरान (51, 42, 43) उसके बाद रहे. वर्ष 2014 में पिछले चरण में भारत ने 33 पदक अपने नाम किये थे जिसमें तीन स्वर्ण, 14 रजत और 16 कांस्य पदक शामिल थे.

शनिवार को भारत के सभी पांचों पदक बैडमिंटन से आए. पुरूषों के एकल एसएल3 क्लास बैडमिंटन में भारत के प्रमोद भगत ने इंडोनेशिया के उकुन रूकाएंडी को 21-19 15-21 21-14 से हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया.




पैरा शटलर तरूण ने प्रतियोगिता के अंतिम दिन भारत की झोली में एक और स्वर्ण पदक डाला. उन्होंने पुरूष एकल एसएल4 क्लास में चीन के युयांग गाओ को 21-16 21-6 से शिकस्त दी. मनोज सरकार ने पुरूष एकल एसएल3 में, मनोज सरकार और प्रमोद भगत तथा आनंद कुमार गौड़ा और नीतेश कुमार की जोड़ियों ने पुरूष युगल एसएल3-एसएल4 पेयर्स में कांस्य पदक जीते.

पैरा एथलेटिक्स ने भारत को आधे पदक (36) दिलाए, जिसमें सात स्वर्ण, 13 रजत और 16 कांस्य शामिल रहे. बैडमिंटन और शतरंज में नौ-नौ जबकि पैरा तैराकी में आठ पदक मिले.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज