लाइव टीवी

ओलिंपिक से पहले भारतीय खिलाड़ियों को करारा झटका, डाइट के बजट में हुई बड़ी कटौती

News18Hindi
Updated: December 9, 2019, 2:19 PM IST
ओलिंपिक से पहले भारतीय खिलाड़ियों को करारा झटका, डाइट के बजट में हुई बड़ी कटौती
पहले खाने के हर दिन 690 रुपये मिलते थे

कटौती करने के बाद खिलाड़ी बाहर का सप्लीमेंट खाने को मजबूर हो गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2019, 2:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के खिलाड़ियों की नजर अब सिर्फ ओलिंपिक (Olympics) पर है, जो अगले साल टोक्यो में होने वाले हैं. ओलिंपिक(Olympics) में अब सिर्फ नौ महीने का समय बचा है. ऐसे में जहां खिलाड़ियों ने  सब कुछ छोड़ छाड़ कर सिर्फ मैदान पर पसीना बहाना शुरू कर दिया है. वहीं उन्हें करारा झटका भी लगा है. भारतीय खिलाड़ियों के खाने और फूड सप्लीमेंट के पैसों में भारी कटौती कर दी गई है. अमर उजाला में छपी खबर के अनुसार  कोच और खिलाड़ी  सेंटर के इंचार्च से सप्लीमेंट देने के लिए विनती कर रहे हैं. खबर के अनुसार  इस कटौती के कारण साई के सेंटरों में तैयारियां कर रहे कई बड़े खिलाड़ियाें को सप्लीमेंट्स देना बंद कर दिया गया है.

आधे से भी कम हुए पैसे
पावर खेलों में अभी तक रोज 1440 रुपये खिला‌ड़ियों दिया जाता है. इस 1440  में से 690 और 750 रुपये खाना और फूड सप्लीमेंट के लिए दिया जाता है. इसे अब सिर्फ 375 रुपये कर दिया गया है. सप्लीमेंट्स बंद किए जाने के बाद अब खिलाड़ियों के डोपिंग में फंसने का खतरा भी मंडराने लगा है.

manju rani, semifinal, aiba world championship
बॉक्सिंग, कुश्ती जैसे खेलों में खिलाड़ियों को फूड सप्लीमेंट की जरूरत होती है (सांकेतिक तस्वीर)


बाहर के सप्लीमेंट का इस्तेमाल कर रहे हैं खिलाड़ी
एथलेटिक्स, बॉक्सिंग (Boxing), कुश्ती, वूशु जैसे पावर खेल के अलावा बाकी खेलों के नेशनल कैंप में भी साई की ओर से खिला‌ड़ियों को खाने और फूड सप्लीमेंट दिए जाते हैं. साई (SAI) के नए ‌नियम के अनुसार खाने और सप्लीमेंट के लिए हर  दिन 375 रुपये और 320 दिन के हिसाब से साल भर के लिए एक लाख 20 रुपये तय किए गए हैं. पहले खिला‌ड़ियों को खाने के लिए 690 रुपये दिए जाते थे. जबकि फूड सप्लीमेंट के लिए  70 किलो से अधिक भार वर्ग वाले खिलाड़ियों को 750 रुपये और इससे कम भार वर्ग वालों को 430 रुपये दिए जाते थे. इस आदेश के रीजनल सेंटर्स पर  खिला‌ड़ियों को सप्लीमेंट्स देना बंद कर दिया गया है. जिसके बाद खिलाड़ियों को मजबूरन बाहर के सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल करना पड़ रहा हैं.

ISL: मनवीर सिंह के हैडर ने दिलाई गोवा को जीत, तीसरे स्‍थान पर पहुंची टीमAFI ने पाकिस्तानी एथलीट को दी मुबारकबाद, ट्विटर ने कहा- इसी की जरूरत है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 2:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर