WC Qualifiers: भारतीय फुटबॉल टीम तैयारी के लिए 19 मई को कतर जाएगी, 3 जून को पहला मैच

भारतीय फुटबॉल टीम जून में होने वाले विश्व कप क्वालिफायर की तैयारियों के लिए कतर जाएगी. यहां टीम 2 हफ्ते ट्रेनिंग करेगी. (AIFF Twitter)

भारतीय फुटबॉल टीम जून में होने वाले विश्व कप क्वालिफायर की तैयारियों के लिए कतर जाएगी. यहां टीम 2 हफ्ते ट्रेनिंग करेगी. (AIFF Twitter)

भारतीय फुटबॉल टीम 2022 विश्व कप क्वालिफायर के लिए 19 मई को कतर के लिए रवाना होगी. ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) ने खाड़ी देश से भारतीय टीम की प्रैक्टिस की अनुमति मांगी थी. इस अनुरोध को कतर ने स्वीकार करते हुए अपने यहां ट्रेनिंग की मंजूरी दे दी.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय फुटबॉल टीम 2022 विश्व कप क्वालिफायर के लिए 19 मई को कतर के लिए रवाना होगी. ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) ने खाड़ी देश से भारतीय टीम की प्रैक्टिस की अनुमति मांगी थी. इस अनुरोध को कतर ने स्वीकार करते हुए अपने यहां ट्रेनिंग की मंजूरी दे दी. कतर ने भारतीय फुटबॉल टीम को केवल ट्रेनिंग की ही मंजूरी नहीं दी है, बल्कि 10 दिन के अनिवार्य क्वारेंटाइन अवधि को भी खत्म करने पर सहमति जताई है. भारतीय टीम कतर में बायो-बबल के भीतर 2 हफ्ते ट्रेनिंग करेगी. भारतीय टीम 3 जून को पहला मैच खेलेगी.

एआईएफएफ के महासचिव कुशल दास ने न्यूज एजेंसी को बताया कि कतर में खिलाड़ियों को क्वारेंटाइन नहीं होना पड़ेगा. वो बायो-बबल में रहेंगे. उन्होंने बताया कि सारे खिलाड़ी दिल्ली में इकठ्ठा होंगे. यहां सबका कोरोना टेस्ट होगा और निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद टीम 19 मई की शाम को कतर के लिए रवाना होगी. दास ने तीन दिन पहले ही कहा था कि कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण राष्ट्रीय टीम अभी देश में प्रशिक्षण नहीं ले सकती है. इसलिए विश्व कप के क्वालिफाइंग मुकाबलों की तैयारी के लिए विदेश में ट्रेनिंग कैंप लगाने के विकल्प पर विचार हो रहा है.

इसे भी पढ़ें, चैंपियंस लीग का फाइनल पोर्तो में होना तय, 12000 दर्शकों की मंजूरी

भारत 2022 फीफा विश्व कप की रेस में शामिल नहीं
भारत पहले ही 2022 फीफा विश्व कप की रेस से बाहर हो चुका है. लेकिन 2023 के एशियन कप की दौड़ में बना हुआ है. इसके लिए कतर (3 जून), बांग्लादेश (7 जून) और अफगानिस्तान (15 जून) के खिलाफ होने वाले मैच अहम हैं. इससे पहले, भारतीय फुटबॉल टीम ने मार्च में ओमान और यूएई के खिलाफ दो दोस्ताना मैच खेले थे. ओमान के खिलाफ मैच ड्रॉ रहा था. जबकि यूएई से उसे शिकस्त झेलनी पड़ी थी. कोरोनावायरस के कारण लगे यात्रा प्रतिबंधों और क्वारेंटाइन नियमों के कारण एशियाई फुटबॉल परिसंघ ने इसी साल मार्च में ग्रुप-ई के मुकाबलों के लिए कतर को सेंट्रल वेन्यू के तौर पर चुना था.

पहले भारतीय टीम का कोलकाता में ट्रेनिंग कैंप लगना था

मुख्य कोच इगोर स्टिमैक की निगरानी में 2 से 21 मई तक भारतीय फुटबॉल टीम का कैंप कोलकाता में होना था. इसके बाद टीम 22 मई को दुबई के लिए रवाना होती और वहां एक हफ्ते ट्रेनिंग करती. इस दौरान एक प्रैक्टिस मैच कराने की भी प्लानिंग चल रही थी. लेकिन कोरोनावायरस की दूसरी लहर कारण ये पूरी योजना खटाई में पड़ गई. भारतीय टीम फिलहाल ग्रुप में पांच मैचों में तीन अंकों के साथ चौथे स्थान पर है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज