14 साल बाद आर्चरी वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष टीम

भारतीय टीम की नजरें पहले खिताब पर रहेगी जब फाइनल में मुकाबला चीन से होगा, चीन ने सेमीफाइनल में कोरिया को 6-2 से हराया.

News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 8:08 AM IST
14 साल बाद आर्चरी वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष टीम
पुरुष आर्चरी टीम ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुकी है (twitter)
News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 8:08 AM IST
वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप में भारत का शानदार प्रदर्शन जारी है. बुधवार को ओलिंपिक कोटा हासिल करने के बाद भारतीय पुरूष रिकर्व टीम ने नेदरलैंड्स जैसी मजबूत टीम को मात देकर फाइनल में प्रवेश किया. 2005 के बाद भारत पहली बार इस चैंपियनशिप में प्रवेश कर पाया है. मैड्रिड में 2005 में भारतीय टीम में राय, जयंत तालुकदार और गौतम सिंह थे जो फाइनल में कोरिया से 232-244 से हार गए थे. भारतीय टीम की नजरें पहले खिताब पर रहेगी जब फाइनल में मुकाबला चीन से होगा. चीन ने सेमीफाइनल में कोरिया को 6-2 से हराया.

तरूणदीप राय, अतानु दास और प्रवीण जाधव की भारतीय तिकड़ी ने शूटऑफ में 29-28 से जीत दर्ज की. कुल स्कोर 5-4 का रहा. पुरुष रिकर्व टीम दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियनशिप फाइनल में पहुंची है. भारतीय महिला कंपाउंड टीम वर्ग में मेडल की दावेदार है जो शनिवार को ब्रॉन्ज मेडल के प्लेऑफ मुकाबले में तुर्की से खेलेगी.



तरूणदीप राय, अतानु दास और प्रवीण जाधव की भारतीय तिकड़ी ने फाइनल में जगह बनाई. (twitter)
तरूणदीप राय, अतानु दास और प्रवीण जाधव की भारतीय तिकड़ी ने फाइनल में जगह बनाई. (twitter)


क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपै को 6-0 से हराने के बाद भारतीय पुरुष रिकर्व टीम को मेजबान टीम से कड़ी चुनौती मिली. नेदरलैंड्स टीम में दुनिया के नंबर दो तीरंदाज स्टीव विजलेर, रियो ओलिंपिक 2016 में सेमीफाइनल तक पहुंचे जेफ वान डेन बर्ग और लंदन ओलिंपिक 2012 में सेमीफाइनल खेलने वाले रिक शामिल थे. भारतीय टीम दो बार मैच में पिछड़ी लेकिन राय ने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल करके मैच को शूटआफ तक खिंचा.

भारतीय पुरुष टीम ओलिंपिक के लिए कर चुकी है क्वालिफाई 

भारतीय पुरुष तीरंदाजी टीम ने 2020 में टोक्यो में होने वाले ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया. भारतीय टीम ने विश्व चैंपियनशिप में कनाडा को 5-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई और इसी के साथ उसने ओलिंपिक कोटा हासिल किया.
2012 के लंदन ओलिंपिक के बाद ये पहला मौका है जब भारतीय पुरुष टीम ने ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई किया है. तीन साल पहले भारतीय टीम रियो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई करने से चूक गई थी. तब केवल अतानु दास के रूप में इकलौता तीरंदाज विश्व क्वालिफाई करने में सफल रहा था जिन्हें प्री-क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था.
Loading...

आईसीसी की बड़ी लापरवाही, कई टीमों का टूट सकता है सपना

भारत से मुकाबले को लेकर पाकिस्तानी कप्तान ने दिया बड़ा बयान

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...