जीतू राय ने 10 मीटर एयर पिस्टल में किया निराश, फाइनल में आठवें स्थान पर रहे!

जीतू ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था। जिसमें वो 46 निशानेबाजों में छठे स्थान पर रहे थे।
जीतू ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था। जिसमें वो 46 निशानेबाजों में छठे स्थान पर रहे थे।

जीतू ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था। जिसमें वो 46 निशानेबाजों में छठे स्थान पर रहे थे।

  • Share this:
रियो दि जिनेरियो। भारतीय निशानेबाजों का रियो ओलंपिक में आगाज निराशाजनक रहा जब जीतू राय पुरूषों की 10 मीटर एयर पिस्टल फाइनल में आठवें स्थान पर रहे जबकि अयोनिका पाल और अपूर्वी चंदेला क्वालीफिकेशन दौर से ही बाहर हो गई ।

सेना के निशानेबाज इंचियोन एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता जीतू कुल 78.7 अंक बनाकर आठ निशानेबाजों में आठवें स्थान पर रहे । वह फाइनल से बाहर होने वाले पहले निशानेबाज रहे ।

जीतू की शुरूआत खराब रही और कठिन प्रतिस्पर्धा के बीच वह इससे उबर नहीं सके । फाइनल में होआंग शुआन विन्ह, पेंग वेई, वू फेलिप अल्मेइडा, तुजिंस्की जुराज, जिन जोंगोह, गोंचारोव ब्लादीमिरा और जियोरडोना जियुसेप्पे जैसे निशानेबाज थे ।



तीन शॉट के बाद जीतू का कुल स्कोर केवल 28.9 रहा। इसके बाद उन्होंगे अगला शॉट 9.7 का लगाया और सबसे निचले स्थान पर बने रहे। जीतू को बाहर होने से बचने के लिए एक क्वालीफाई शॉट की बेहद जरूरत थी लेकिन 10.1 का शॉट उनके काम नहीं आया और वह फाइनल राउंड में बाहर होने वाले पहले निशानेबाज बने। उन्हें गोंतचारोव के खिलाफ 0.7 प्वाइंट का अंतर कम करना था। गोंतचारोव ने 9.7 का स्कोर किया। इस तरह जीतू 0.3 के स्कोर से अंतर के कारण बाहर हो गए। उनका कुल स्कोर 78.7 था।
ये भी पढ़ें: रियो ओलंपिक: हॉकी टीम की जीत से शुरुआत मगर टेनिस में पेस-बोपन्ना बाहर

वियतनाम के विन्ह ने 202.5 के साथ स्वर्ण पदक जीता जबकि ब्राजील के अल्मइडा ने रजत और चीन के वेई ने कांस्य पदक अपने नाम किए। जीतू ओलंपिक खेलों की एक और प्रतिस्पर्धा -- 50 मीटर पिस्टल में हिस्सा लेंगे जिसमें वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं।

इससे पहले, जीतू ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था। वह 46 निशानेबाजों में छठे स्थान पर रहे। जीतू ने 580 का स्कोर किया। पहली दो सीरिज में उन्होंने 96 और फिर 98, 96, 96 और 98 का स्कोर किया। वहीं प्रतिस्पर्धा में एक दूसरे भारतीय निशानेबाज गुरप्रीत सिंह 576 के स्कोर के साथ 20वें स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहे थे।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज