लाइव टीवी
Elec-widget

हार से निराश बोला पांच बार का वर्ल्ड चैंपियन, अपना ही दुश्मन बन गया हूं

News18Hindi
Updated: November 27, 2019, 10:47 AM IST
हार से निराश बोला पांच बार का वर्ल्ड चैंपियन, अपना ही दुश्मन बन गया हूं
विश्वनाथन आनंद पांच बार वर्ल्ड चैंपियन बन चुके हैं

विश्वनाथन आनंद (Vishwanathan Anand) का प्रदर्शन (TATA Steel and Rapid Blitz Tounament) में उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहा

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 10:47 AM IST
  • Share this:
कोलकाता. खेल में निरंतररता बनाये रखने के लिए जुझ रहे पांच बार के शतरंज विश्व चैम्पियन (Chess World Champion) विश्वनाथन आनंद (Vishwanathan Anand) ने मंगलवार को कहा कि वह खुद ही ‘अपना सबसे बड़ा दुश्मन बनते जा रहे.’ आनंद (Vishwanathan Anand) मंगलवार को टाटा स्टील रैपिड एवं ब्लिट्ज टूर्नामेंट (TATA Steel and Rapid Blitz Tounament)  की आखिरी पांच बाजियों में केवल एक अंक हासिल कर पाये और इस तरह से ग्रैंड शतरंज टूर से बाहर हो गये.

हार से निराश हुए वर्ल्ड चैंपियन
उन्होंने टूर्नामेंट के बाद कहा, ‘मेरे पास इसके बारे में बताने के लिए शब्द नहीं है. मैं खुद को मौका देता हूं और फिर खुद ही अपना दुश्मन बन जाता हूं. यह मुझे परेशान करता है. मेरे लिए अगर मौका नहीं होगा तो यह ज्यादा अच्छा होगा.’ आनंद के लिए सबसे मुश्किल क्षण तब आया जब ब्लिट्ज में बादशाह माने जाने वाले इस खिलाड़ी ने 15वें दौर में नीदरलैंड के अनीश गिरि से जीतने की स्थिति में पहुंच कर मैच गंवा दिया.

magnus carlsen, carlsen, magnus carlsen tata steel chess india, magnus carlsen chess india, viswanathan anand, anand,मैगनस कार्लसन, कार्लसन टाटा स्टील, विश्वरनाथन आनंद
विश्आवनाथन आनंद को ग्रैंड चेस टूर में हार का सामना करना पड़ा है


आनंद ने कहा खुद को बर्बाद करता जा रहा हूं
आनंद इससे इतने निराश थे कि उन्हें ब्रिटिश अभिनेता जान क्लीसे की 1986 में रिलीज हुई फिल्म क्लाकवाइज का एक संवाद ‘मुझे निराशा से परेशानी नहीं लौरा, मैं निराशा झेल सकता हूं. मैं उस उम्मीद का सामना नहीं कर पा रहा हूं’ उन्होंने कहा, ‘मुझे असफलता से कोई परेशानी नहीं लेकिन मैं उम्मीदों के बोझ के तले दबता जा रहा हूं. मैं आज यही कर रहा था. मैं खुद को लगातार मौके दे रहा था और फिर खुद को बर्बाद कर लिया.’’

उन्होंने कहा, ‘यह (अनीश के खिलाफ मुकाबला) ताबूत में आखिरी कील साबित हुआ. मैं जीत रहा था लेकिन समय के बारे में भूल गया. अगर मैं यह मुकाबला जीत जाता तो दौड़ में बना रहता. मैं अपना खुद का सबसे बड़ा दुश्मन हूं.’
Loading...

भारत को झटका, शिखर धवन वेस्‍टइंडीज सीरीज से बाहर, ये खिलाड़ी लेगा जगह

जेटली स्‍टेडियम में गंभीर के नाम पर स्टैंड, उद्घाटन में रजत शर्मा पर बरसे गौतम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 10:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...