किरण रीजीजू ने की घोषणा, दिवंगत हॉकी खिलाड़ियों रविंदर और कौशिक के परिवारों को मिलेंगे 5-5 लाख रुपये

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रीजीजू ने रविंदर पाल सिंह और एमके कौशिक के परिजनों को आर्थिक मदद देने का फैसला किया. (Kiren Rijiju Twitter)

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रीजीजू ने रविंदर पाल सिंह और एमके कौशिक के परिजनों को आर्थिक मदद देने का फैसला किया. (Kiren Rijiju Twitter)

खेल मंत्री किरण रीजीजू (Kiren Rijiju) ने बताया कि सहायता के तौर पर खेल मंत्रालय रविंदर पाल सिंह और एमके कौशिक के शोकाकुल परिवारों को सहायता के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देगा. कौशिक सीनियर महिला और पुरुष टीमों को कोच भी रहे थे. उनकी कोचिंग में दोनों टीमों ने एशियाई खेलों में पदक जीते.

  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्रीय खेल मंत्री किरण रीजीजू (Kiren Rijiju) ने कोरोना संक्रमण के कारण अपनी जान गंवाने वाले पूर्व हॉकी खिलाड़ियों रविंदर पाल सिंह (Ravinder Pal Singh) और एमके कौशिक (MK Kaushik) के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का फैसला किया है. कौशिक और सिंह, दोनों 1980 में मॉस्को ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम के सदस्य थे. दोनों दिग्गज खिलाड़ियों का निधन कोविड-19 से संक्रमित होने के चलते हो गया था.

रीजीजू ने गुरुवार को ट्वीट किया,‘हमने दो हॉकी दिग्गजों को कोरोना के कारण खो दिया. भारतीय खेलों में कौशिक जी और रविंदर पाल सिंह जी के योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘सहायता के तौर पर खेल मंत्रालय उनके शोकाकुल परिवार को सहायता के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये देगा. दुख की इस घड़ी में हम उनके साथ हैं.’


रविंदर पाल सिंह का 60 साल की उम्र में दो सप्ताह कोरोना से जूझने के बाद लखनऊ में निधन हो गया था. वहीं, पूर्व कोच कौशिक ने 66 साल की उम्र में अंतिम सांस ली. वह तीन सप्ताह तक इस घातक वायरस से लड़ते रहे लेकिन बाद में जिंदगी की जंग हार गए. कौशिक सीनियर महिला और पुरुष टीमों को कोच भी रहे थे. उनकी कोचिंग में दोनों टीमों ने एशियाई खेलों में पदक जीते.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज