Home /News /sports /

कृष्णा नागर की मां का निधन, खेल रत्न अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल नहीं होंगे पैरालंपिक गोल्ड मेडलिस्ट

कृष्णा नागर की मां का निधन, खेल रत्न अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल नहीं होंगे पैरालंपिक गोल्ड मेडलिस्ट

कृष्णा नागर ने टोक्यो पैरालंपिक 2020 में गोल्ड मेडल जीता था. (Krishna Nagar/Instagram)

कृष्णा नागर ने टोक्यो पैरालंपिक 2020 में गोल्ड मेडल जीता था. (Krishna Nagar/Instagram)

बैडमिंटन खिलाड़ी कृष्णा नागर (Krishna Nagar) ने टोक्यो पैरालंपिक में गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया था. कृष्णा नागर ने मेन्स सिंगल्स के फाइनल में हांगकांग के चु मान केइ को हराया था. जयपुर के रहने वाले 21 वर्षीय कृष्णा नागर ने अप्रैल में दुबई में पैरा बैडमिंटन अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में दो गोल्ड मेडल जीते थे. नागर ने एसएल6 क्लास में पदक जीता था, जिसमें छोटे कद के खिलाड़ी खेलते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारतीय शटलर कृष्णा नागर (Krishna Nagar) को शनिवार को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार (Khel Ratna Award) से सम्मानित किया जाना था, लेकिन अब वह इस सम्मान समारोह का हिस्सा नहीं बन पाएंगे. कृष्णा नागर जयपुर के रहने वाले हैं और उन्होंने इस साल टोक्यो पैरालंपिक 2020 में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता था. दरअसल, इस सम्मान समारोह से एक दिन पहले यानी शुक्रवार को कृष्णा की मां का आकस्मिक निधन हो गया है. इस वजह से अब वह इस सम्मान समारोह में मौजूद नहीं रहेंगे.

    कृष्णा की मां का शुक्रवार की रात निधन हो गया और शटलर घर वापस आ गए हैं. टोक्यो 2020 पैरालिंपिक गोल्ड मेडल विजेता को प्रतिष्ठित खेल रत्न पुरस्कार के लिए 11 अन्य एथलीटों के साथ नामित किया गया था. जब कृष्णा महज 2 साल थे तभी डॉक्टर्स ने कह दिया था कि उनकी लम्बाई ज्यादा नहीं बढ़ेगी. घर में भाई-बहन, माता-पिता सभी की लंबाई सामान्य है, लेकिन कृष्णा नागर की लम्बाई 4.6 फीट से आगे नहीं बढ़ सकी.
    गंभीर बीमारी के कारण 33 साल की उम्र में संन्‍यास लेने को मजबूर स्‍टार खिलाड़ी!

    गीता फोगाट मां बनने के बाद पहली बार मैट पर उतरीं और फाइनल तक पहुंचीं, सरिता बनीं नेशनल चैंपियन

    शुक्रवार को न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कृष्णा ने अपनी खुशी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था, “मेरे सपने धीरे-धीरे पूरे हो रहे हैं. यह गर्व का क्षण है. मैंने पहले गोल्ड मेडल जीता, फिर मुझे खेल रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया. यह अच्छा लगता है. मेरे परिवार में हर कोई उत्साहित है.” कृष्णा नागर ने कहा था, ”मेरा परिवार गर्व महसूस करता है, क्योंकि हर कोई उन्हें पहचानता है और उन्हें दिए जा रहे सम्मान से वे बहुत खुश हैं. बस कल्पना करना चाहते हैं कि भारत के राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया जाना कैसा होगा.”

    मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार पाने वाले 12 खिलाड़ियों की लिस्ट:

    नीरज चोपड़ा (एथलेटिक्स), रवि कुमार (कुश्ती), लवलीना बोरगोहेन (मुक्केबाजी), श्रीजेश पीआर (हॉकी), अवनी लेखारा (पैरा निशानेबाजी), सुमित अंतिल (पैरा एथलेटिक्स), प्रमोद भगत (पैरा बैडमिंटन), कृष्णा नागर (पैरा बैडमिंटन), मनीष नरवाल (पैरा शूटिंग), मिताली राज (क्रिकेट), सुनील छेत्री (फुटबॉल), और मनप्रीत सिंह (हॉकी).

    Tags: Gold Medal, Khel ratna, Krishna Nagar, Major Dhyan Chand Khel Ratna Award, Tokyo Paralympics 2020

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर