लाइव टीवी
Elec-widget

लक्ष्य सेन ने स्कॉटिश ओपन जीता, 3 महीने में चौथा खिताब किया अपने नाम

भाषा
Updated: November 25, 2019, 11:20 AM IST
लक्ष्य सेन ने स्कॉटिश ओपन जीता, 3 महीने में चौथा खिताब किया अपने नाम
लक्ष्‍य सेन.

लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने रविवार रात हुए फाइनल में ब्राजील के अपने विरोधी को 56 मिनट में 18-21, 21-18, 21-19 से हराया.

  • भाषा
  • Last Updated: November 25, 2019, 11:20 AM IST
  • Share this:
ग्लास्गो: भारतीय बैडमिंटन (Indian Badminton) के उभरते खिलाड़ी लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने यहां स्कॉटिश ओपन (Scotish Open) के पुरुष एकल फाइनल में ब्राजील के यगोर कोएल्हो के खिलाफ रोमांचक जीत के साथ तीन महीने में चौथा खिताब अपने नाम किया. भारत के शीर्ष वरीय लक्ष्य ने रविवार रात हुए फाइनल में ब्राजील के अपने विरोधी को 56 मिनट में 18-21, 21-18, 21-19 से हराया. उत्तराखंड के 18 साल के लक्ष्य का पिछले चार टूर्नामेंट में यह तीसरा खिताब है. उन्होंने इससे पहले सारलोरलक्स ओपन, डच ओपन और बेल्जियम इंटरनेशनल का खिताब जीता था.

आयरिश ओपन की नाकामी को छोड़ा पीछे
आयरिश ओपन के दूसरे दौर में शिकस्त झेलने के बाद लक्ष्य ने यहां शानदार वापसी की. भारतीय खिलाड़ी ने अपने अभियान की शुरुआत ऑस्ट्रिया के लुका व्रेबर के खिलाफ सीधे गेम में जीत के साथ की और फिर हमवतन किरन जार्ज को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. दुनिया के 41वें नंबर के खिलाड़ी लक्ष्य ने छठे वरीय ब्रायन यंग को सीधे गेम में हराया और फिर सेमीफाइनल में फ्रांस के क्रिस्टो पोपोव को शिकस्त दी.

lakshya sen, bwf ranking, belgium open,
लक्ष्य सेन बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में शीर्ष 100 में मौजूद हैं


रैंकिंग में टॉप 40 में आएंगे लक्ष्‍य सेन
इस जीत से लक्ष्य बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में शीर्ष 40 में जगह बना लेंगे और ग्रेड 2 की शीर्ष प्रतियोगिता में सीधे प्रवेश के करीब होंगे. लक्ष्य से पहले आनंद पवार (2010 और 2012), अरविंद भट (2004) और पुलेला गोपीचंद (1999) स्काटिश ओपन का खिताब जीत चुके हैं. लक्ष्य ने मुकाबले की धीमी शुरुआत की लेकिन इसके बाद 10-8 की बढ़त बनाने में सफल रहे. कोएल्हो हालांकि लगातार छह अंक के साथ 14-10 से आगे हो गए जिसके बाद उन्होंने पहला गेम अपने नाम किया.

लक्ष्य ने दूसरे गेम में शानदार शुरुआत करते हुए 7-0 की बढ़त बनाई लेकिन ब्राजील के खिलाड़ी ने 17-17 पर स्कोर बराबर कर दिया. भारतीय खिलाड़ी हालांकि अगले पांच में से चार अंक जीतकर मुकाबला 1-1 से बराबर करने में सफल रहा. तीसरे और निर्णायक गेम में भी कड़ी टक्कर मिली. ब्रेक के समय कोएल्हो 11-8 से आगे थे लेकिन लक्ष्य ने बराबरी हासिल की और फिर गेम और मैच जीतकर खिताब अपनी झोली में डाला.
Loading...

भारतीय शटलर बी साईं प्रणीत ने की सगाई, बधाई देने पहुंचे बैडमिंटन स्टार

विजेंदर सिंह ने दी ओलिंपिक मेडलिस्ट को मात, जीती लगातार 12वीं बाउट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 11:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...