Home /News /sports /

malaysia masters super 500 badminton eyes on pv sindhu and hs prannoy

Malaysia Masters: पीवी सिंधु और एचएस प्रणय मलेशिया मास्टर्स में जारी रखना चाहेंगे लय, खिताब की उम्मीद

शटलर एचएस प्रणय से पुरुष सिंगल्स में खिताब की उम्मीद रहेगी. (AFP)

शटलर एचएस प्रणय से पुरुष सिंगल्स में खिताब की उम्मीद रहेगी. (AFP)

Malaysia Masters : भारतीय शटलर एचएस प्रणय पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप के बाद से लगातार क्वार्टर फाइनल में पहुंच रहे हैं. भारतीय टीम की थॉमस कप में ऐतिहासिक जीत के सूत्रधार रहे प्रणय के पास चैंपियन बनने की काबिलियत है लेकिन वह आखिरी के कुछ मैचों की बाधा नहीं पार कर पा रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

कुआलालंपुर. स्टार शटलर पीवी सिंधु और एचएस प्रणय मंगलवार से यहां शुरू हो रहे मलेशिया मास्टर्स सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती की अगुआई करेंगे. सिंधु और प्रणय को पिछले सप्ताह मलेशिया ओपन सुपर 750 के क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था और ये दोनों खिलाड़ी इस सप्ताह शुरू हो रहे टूर्नामेंट में अपने खेल की खामियों को दूर कर सुधार करना चाहेंगे.

पीवी सिंधु ने इस साल सैयद मोदी इंटरनेशनल और स्विस ओपन के रूप में दो सुपर 300 खिताब जीते हैं, वहीं प्रणय खिताब जीतने के पांच साल के लंबे इंतजार को खत्म करने के लिए बेताब हैं. दो बार की ओलंपिक पदक विजेता सिंधु विश्व टूर स्पर्धाओं के क्वार्टर और सेमीफाइनल में लगातार पहुंच रही हैं, लेकिन शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ वह थोड़ी कमजोर दिख रही हैं.

इसे भी देखें, पीवी सिंधु और एचएस प्रणय को मलेशिया ओपन में मिली हार

इस साल कई टूर्नामेंटों के आखिरी के कुछ मैचों में उन्हें थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन, चीन की चेन यू फेई और ही बिंग जियाओ, कोरिया की आन से यंग और चीनी ताइपे की ताई जू यिंग जैसी खिलाड़ियों के खिलाफ हार का सामना सामना करना पड़ा है . इसने उनकी कमजोरियों को उजागर कर दिया है और वह आगामी राष्ट्रमंडल खेलों से पहले इसे दूर करने की कोशिश करेंगी.

पूर्व वर्ल्ड चैंपियन सिंधु के सामने शुरुआती दौर में बिंग जियाओ की चुनौती होगी. इस खिलाड़ी ने  पिछले महीने इंडोनेशिया ओपन सुपर 1000 में सिंधु को बाहर का रास्ता दिखाया था. बिंग जियाओ के खिलाफ सिंधु के जीत-हार का रिकॉर्ड भले ही 8-10 का है लेकिन इस भारतीय खिलाड़ी ने तोक्यो ओलंपिक समेत पिछले 3 में से 3 मुकाबले जीते हैं.

इस सत्र में शानदार प्रदर्शन कर रहे प्रणय पिछले साल विश्व चैंपियनशिप के बाद से लगातार क्वार्टर फाइनल में पहुंच रहे हैं. भारतीय टीम की थॉमस कप में ऐतिहासिक जीत के सूत्रधार रहे प्रणय के पास चैम्पियन बनने की काबिलियत है लेकिन वह आखिरी के कुछ मैचों की बाधा नहीं पार कर पा रहे हैं.

केरल का यह 29 साल का खिलाड़ी इंडोनेशिया सुपर 1000 में सेमीफाइनल में पहुंचा था. वह मलेशिया में इंडोनेशिया के शेसर हिरेन रुस्तवितो के खिलाफ अपना अभियान शुरु करेंगे. इसके बाद के दौर में उनके सामने जोनाथन क्रिस्टी की चुनौती होगी जिन्होंने इस खिलाड़ी को पिछले सप्ताह हराया था.

इसे भी देखें, एशियाई खेलों की गोल्ड मेडलिस्ट एमआर पूवम्मा डोप टेस्ट में नाकाम, लगा बैन

अन्य भारतीयों में, बी साई प्रणीत पहले दौर में ग्वाटेमाला के केविन कॉर्डन से भिड़ेंगे जबकि चोट से वापसी कर रहे समीर वर्मा के सामने चौथी वरीयता प्राप्त ताइवान के चोउ टिएन चीन की मुश्किल चुनौती होगी. दो बार की राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता साइना नेहवाल कोरिया की किम गा यून के खिलाफ अपना अभियान शुरू करेंगी.

युगल वर्ग में राष्ट्रमंडल खेलों के लिए चुनी गईं त्रिशा जॉली और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी मलेशिया की पर्ल टैन और थिनाह मुरलीधरन की जोड़ी से भिड़ेगी, जबकि राष्ट्रमंडल खेलों की पूर्व कांस्य पदक विजेता अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी क्वालिफाइंग जोड़ी के खिलाफ पहला मैच खेलेगी.

Tags: Badminton, HS Prannoy, Pv sindhu, Sports news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर