• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • मनिका बत्रा का सनसनीखेज आरोप-नेशनल कोच ने मैच फिक्सिंग के लिए कहा था

मनिका बत्रा का सनसनीखेज आरोप-नेशनल कोच ने मैच फिक्सिंग के लिए कहा था

टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा पर मैच फिक्सिंग का दबाव डाला गया! (PC-मनिका बत्रा इंस्टाग्राम)

टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा पर मैच फिक्सिंग का दबाव डाला गया! (PC-मनिका बत्रा इंस्टाग्राम)

टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा (Manika Batra) ने नेशनल कोच सौम्यदीप रॉय पर आरोप लगाया कि उन्होंने ओलंपिक क्वालीफायर के दौरान एक मैच हारने के लिए कहा था.

  • Share this:

    नई दिल्ली. टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा (Manika Batra) ने आरोप लगाया है कि नेशनल कोच सौम्यदीप रॉय ने उन्हें मार्च में ओलंपिक क्वालीफायर के दौरान एक मैच गंवाने (Manika Batra Match Fixing allegations) के लिये कहा था और इसी वजह से टोक्यो ओलंपिक में एकल स्पर्धा में उन्होंने रॉय की मदद लेने से इनकार कर दिया था . भारतीय टेबल टेनिस महासंघ के कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए मनिका ने इस बात का पुरजोर खंडन किया कि रॉय की मदद लेने से इनकार करके उन्होंने खेल की साख को नुकसान पहुंचाया है . TTFI सूत्रों के अनुसार दुनिया की 56वें नंबर की खिलाड़ी ने कहा कि जिसने उन्हें मैच फिक्सिंग के लिये कहा था, अगर वह उनके साथ कोच के रूप में बैठे होते तो वह मैच पर फोकस नहीं कर पाती .

    मनिका ने TTFI सचिव अरूण बनर्जी को भेजे जवाब में कहा ,’ आखिरी मिनट पर उनके दखल से पैदा होने वाले व्यवधान से बचने के अलावा राष्ट्रीय कोच के बिना खेलने के मेरे फैसले के पीछे एक और अधिक गंभीर वजह थी .’ उन्होंने कहा ,’ राष्ट्रीय कोच ने मार्च 2021 में दोहा में क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में मुझ पर दबाव बनाया कि उनकी प्रशिक्षु के खिलाफ मैच गंवा दूं ताकि वह ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर सके . संक्षेप में मुझसे मैच फिक्सिंग के लिये कहा .’

    सौम्यदीप रॉय के जवाब का इंतजार
    कई प्रयासों के बावजूद रॉय से संपर्क नहीं हो सका है .  खिलाड़ी से कोच बने रॉय को मौजूदा राष्ट्रीय शिविर से बाहर रहने को कहा गया है . टीटीएफआई ने उन्हें उनका पक्ष रखने के लिये भी कहा है . बनर्जी ने कहा,’ आरोप रॉय के खिलाफ हैं . उन्हें जवाब देने दीजिये . फिर आगे के बारे में फैसला लेंगे .’ रॉय राष्ट्रमंडल खेलों की टीम स्पर्धा के स्वर्ण पदक विजेता हैं जिन्हें अर्जुन पुरस्कार भी मिल चुका है .

    इसे भी पढ़ें, अवनि लेखरा ने रचा इतिहास, टोक्यो पैरालंपिक में जीता दूसरा मेडल

    मनिका ने कहा ,’ मेरे पास इस घटना का सबूत है जो मैं उचित समय आने पर पेश करूंगी . मुझे मैच गंवाने के लिये कहने राष्ट्रीय कोच मेरे होटल के कमरे में आये और करीब 20 मिनट मुझसे बात की . उन्होने अनैतिक तरीके से अपनी प्रशिक्षु को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जो उस समय उनके साथ आई थी .’ मनिका और सुतीर्था मुखर्जी ने ओलंपिक के लिये क्वालीफाई किया था . सुतीर्था रॉय की अकादमी में अभ्यास करती हैं . मनिका ने कहा ,’मैंने उनसे कोई वादा नहीं किया और तुरंत TTFI को इसकी जानकारी दी . उनके दबाव और धमकी का हालांकि मेरे खेल पर असर पड़ा .’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज