टोक्यो ओलिंपिक में मैरीकॉम निभाएंगी अहम जिम्मेदारी, IOC ने खास दल में किया शामिल

टोक्यो ओलिंपिक में मैरीकॉम निभाएंगी अहम जिम्मेदारी, IOC ने खास दल में किया शामिल
मैरीकॉम ने ओलिंपिक में दो बार ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया है

भारत की 36 साल की मैरीकॉम (Mary Kom) विश्व चैंपियनशिप (Boxing World Championship) के इतिहास की सबसे सफल मुक्केबाज हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 4:19 PM IST
  • Share this:
नयी दिल्ली. छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम (MC Marykom) को मुक्केबाजी पर अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (International Olympic Committee)) के कार्यबल ने अगले साल होने वाले टोक्यो ओलिंपिक गेम्स (Tokyo Olympic Games) से पहले मुक्केबाजों का प्रतिनिधित्व करने के लिए 10 सदस्यीय खिलाड़ी दूत समूह में शामिल किया है.

मैरीकॉम (MC Marykom) इस समूह में एशियन बॉक्सर का प्रतिनिधित्व करेंगी. इस समूह में दो बार के ओलिंपिक और वर्ल्ड चैंपियनशिप (World Championship) के गोल्ड मेडल विजेता यूक्रेन (Ukraine) के दिग्गज वासिल लामाचेनको (यूरोप) और पांच बार के विश्व चैंपियन (World Champion) तथा 2016 ओलिंपिक (2016 Rio Olympic) के गोल्ड मेडल विजेता जूलियो सेजार ला क्रूज (अमेरिका) जैसे दिग्गज खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया है.

एशियन बॉक्सर के लिए काम करना चाहती हैं मैरीकॉम



sports news, mc mary com, boxer, padma vibhushan, padma awards, pv sindhu, पद्म पुरस्कार, पद्म विभूषण, स्पोर्ट्स न्यूज, खेल न्यूज, बॉक्सर, मुक्केबाजी, पीवी सिंधू
भारतीय महिला मुक्केबाज मैरीकॉम छह बार वर्ल्ड चैंपियन का खिताब जीत चुकीं हैं. (FILE PHOTO)


राज्यसभा की सदस्य मैरीकोम ने पीटीआई को कहा, ‘यह बड़े सम्मान की बात है, उपलब्धि की तरह. लेकिन साथ ही जिम्मेदारी भी है क्योंकि मुझे अपने साथी खिलाड़ियों की मदद के लिए काम करना होगा. हमेशा की तरह मैं अपना सर्वश्रेष्ठ करने का प्रयास करूंगी.’

अगले साल होने वाले ओलिंपिक क्वालिफायर की टीम की घोषणा से पहले मैरीकॉम के खिलाफ ट्रायल मुकाबले की पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन निकहत जरीन की मांग के संदर्भ में मैरीकोम ने कहा, ‘मुझे इस समूह में उस समय शामिल किया गया है जब बिना किसी कारण के मेरे खिलाफ नकारात्मक अभियान चलाया जा रहा है.’

टोक्यो ओलिंपिक की योजनाएं बनाने में सुझाव देंगी मैरीकॉम
भारत की 36 साल की मैरीकॉम हाल में विश्व चैंपियनशिप के इतिहास की सबसे सफल मुक्केबाज बनी थीं जब उन्होंने रूस में इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता के पिछले सत्र में कांस्य पदक के रूप में आठवां पदक जीता था. मैरीकॉम 51 किग्रा वर्ग में ओलिंपिक कांस्य पदक जीतने के अलावा पांच बार की एशियाई चैंपियन हैं. उन्होंने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में भी स्वर्ण पदक जीते.

marykom, world championship, boxing
भारतीय बॉक्सर मैरीकॉम राज्यसभा सांसद भी हैं


आईसीसी ने बयान में कहा, ‘प्रत्येक क्षेत्र से एक महिला और एक पुरुष दूत मुक्केबाजी समुदाय से निजी और डिजिटल रूप से जुड़ने की भूमिका निभाएंगे.’ बयान के अनुसार ,‘वे टोक्यो ओलिंपिक खेल 2020 के मुक्केबाजी टूर्नामेंट और क्वालिफाइंग प्रतियोगिताओं की योजना बनाने के लिए खिलाड़ियों के सुझावों को मुक्केबाजी कार्यबल (बीटीएफ) तक पहुंचाने में मदद करेंगे.’

आईओसी ने इसी साल अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) से ओलंपिक स्पर्धा के आयोजन का अधिकार छीन लिया था और पूरी क्वालिफाइंग प्रक्रिया को अपने हाथ में ले लिया. आईओसी का कहना है कि प्रशासनिक अखंडता और वित्त प्रबंधन के मामले में एआईबीए सभी चीजों को सही करने में नाकाम रहा है.

खिलाड़ी दूत समूह इस प्रकार है:

पुरुष : लुकमो लावल (अफ्रीका), जूलियो सेजार ला क्रूज (अमेरिका), जियांगयुआन असियाहु (एशिया), वासिल लामाचेनको (यूरोप), डेविड निका (ओसियाना)

महिला : खदीजा मार्दी (अफ्रीका), मिकाइला मायर (अमेरिका), एमसी मेरीकोम (एशिया), सारा ओरोमोने (यूरोप) और शेली वाट्स (ओसियाना)

जिस बुकी के चक्कर में लगा शाकिब पर बैन, उसकी धमकी से युवक ने कर ली थी खुदकुशी!

शाकिब अल हसन की हरकत से बौखलाया ये पूर्व कप्तान, कहा- बहुत कम सजा मिली
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज