53 साल की उम्र में भी खतरनाक हैं 'बैड बॉय' टायसन के पंच, वापसी से पहले दिखाया दम

उन्होंने एक लाइव चैट के दौरान भी वापसी की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि वे चैरिटी के लिए पैसा जमा करना चाहते हैं। टायसन इस पैसे से बेघर लोगों की घर बनाने में सहायता करना चाहते हैं। चैरिटी मैच के लिए टायसन लगातार प्रैक्टिस कर रहे हैं
उन्होंने एक लाइव चैट के दौरान भी वापसी की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि वे चैरिटी के लिए पैसा जमा करना चाहते हैं। टायसन इस पैसे से बेघर लोगों की घर बनाने में सहायता करना चाहते हैं। चैरिटी मैच के लिए टायसन लगातार प्रैक्टिस कर रहे हैं

माइक टायसन (Mike Tyson) साल 1986 में वह 20 साल की उम्र में वह सबसे युवा हेवीवेट चैंपियन बने थे

  • Share this:
नई दिल्ली. माइक टायसन (Mike Tyson) को बॉक्सिंग की दुनिया का बैड बॉय कहा जाता है. 1980 के दशक में टायसन बॉक्सिंग की दुनिया पर राज किया करते थे. अब 15 साल बाद वह एक चैरिटी मैच के लिए रिंग में वापसी करने वाले हैं. उन्होंने हाल ही में एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वह इस मैच की तैयारी करते दिखे और उन्होंने छह सेकंड के इस वीडियो में दिखा दिया कि वह आज भी उतने ही खतरनाक और 'बैड बॉय' हैं.

टायसन ने शेयर किया ट्रेनिंग का वीडियो
टायसन ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'मैं जिंदगी भर के लिए बैड बॉय हूं'. इस वीडियो में वह ट्रेनिंग करचे हुए अपने ट्रेनर को नॉकआउट कर देते हैं. हाल में वह इंस्टाग्राम पर लाइव आए थे तब उन्होंने बताया था कि वह काफी फिट हैं और मुकाबले के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा, 'मैं काफी समय से वर्कआउट कर रहा हूं और रिंग में जाने की तैयारी में लगा हुआ हूं, मुझे लगता है कि मैं बॉक्स में जाकर कुछ प्रदर्शनी मैच खेलूंगा और अच्छे शेप में आ जाउंगा. मैं चैरिटी मैच खेलकर लोगों की मदद करना चाहता हूं.





बैड बॉय टायसन के नाम हैं कई बड़े रिकॉर्ड
53 साल के इस बॉक्सर ने विल स्मिथ (Will Smith) के साथ फिल्म बनाई है जिसका नाम 'बैड बॉयस फॉर लाइफ रखा गया है (Bad Boys For Life).' इस फिल्म में उनके जीवन को दिखाया गया है. साल 2005 में उन्होंने 20 साल लंबे करियर को अलविदा कह दिया था. वह दुनिया के हेवीवेट चैंपियन थे. टायसन (Mike Tyson) ने अपने करियर में 50 बाउट खेली और 44 में जीत हासिल की. साल 1986 में वह 20 साल की उम्र में वह सबसे युवा चैंपियन बने थे.

खिताबी जीत के बाद टायसन का नाम ‘आयरन मैन’ पड़ गया था. इतना ही नहीं सबसे कम उम्र में WBA और IBF का ख़िताब जीतने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है. टायसन ने 2005 में आयरलैंड के मुक्केबाज केविन मैक्ब्राइड के हाथों मिली हार के बाद मुक्केबाजी से संन्यास ले लिया था.

सनथ जयसूर्या: एक ऐसा गेंदबाज, जो रातों-रात बन गया ओपनर और फिर वनडे क्रिकेट में हुआ 'धमाका'

बड़ा खुलासा : राहुल द्रविड़ ने पाकिस्तान में घुसकर दी थी चुनौती, अगर मैं...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज