लाइव टीवी

मोहन बागान ने आइजोल एफसी को हराकर 5 साल बाद जीता आई लीग खिताब

News18Hindi
Updated: March 11, 2020, 10:49 AM IST
मोहन बागान ने आइजोल एफसी को हराकर 5 साल बाद जीता आई लीग खिताब
मोहन बागान के खिलाड़ियों ने पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया.

मोहन बागान (Mohun Bagan) ने पिछली बार साल 2014-15 में आईलीग खिताब (I-League Trophy) अपने नाम किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2020, 10:49 AM IST
  • Share this:
कल्याणी (पश्चिम बंगाल). मोहन बागान (Mohun Bagan) ने आइजोल एफसी को 1-0 से हराकर दूसरी बार आईलीग खिताब (I-League) अपने नाम कर लिया है. मोहन बागान के 16 मैचों में 39 अंक हो गए हैं और वह दूसरे स्थान पर काबिज ईस्ट बंगाल से 16 अंक आगे है. ऐसे में अगर ईस्ट बंगाल बचे सारे मैच भी जीत लेता है तो मोहन बागान से आगे नहीं जा सकेगा. मोहन बागान ने पिछली बार आईलीग खिताब 2014-15 में जीता था. मोहन बागान के लिए विजयी गोल 80वें मिनट में सेनेगल के स्ट्राइकर बाबा दियावारा ने दागा. सेविला के पूर्व स्ट्राइकर बाबा ने लगातार नौ मुकाबलों में अपना दसवां गोल किया.

मोहन बागान का दूसरा खिताब
मोहन बागान (Mohun Bagan) के अब 16 मैचों में 39 अंक हो गए हैं. वहीं ईस्ट बंगाल (East Bengal) के 16 मैचों में 23 अंक हैं. मोहन बागान ने दूसरी बार आई लीग (I-League) खिताब पर कब्जा जमाया है. इसके अलावा मोहन बागान ने डेम्पो के रिकॉर्ड की बराबरी भी कर ली. डेम्पो ने साल 2009-10 में सर्वाधिक चार मैच बाकी रहते आई लीग खिताब जीता था और अब मोहन बागान ने भी ऐसा ही किया है. अब जबकि मोहन बागान ने खिताब पर कब्जा जमा लिया है तो उसे रविवार को होने वाले मुकाबले में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी ईस्ट बंगाल के खिलाफ मनोवैज्ञानिक बढ़त हासिल होगी. मोहन बागान ने 19 जनवरी को पहले लेग में ईस्ट बंगाल को 2-1 से मात दी थी.

समर्थकों का हुजूम



मुकाबले की शुरुआत से ही मोहन बागान (Mohun Bagan) ने आइजोल पर शिकंसा कस दिया. अहम मैच में प्रदर्शन का दबाव कहें या फिर 17000 घरेलू समर्थकों का हुजूम, आइजोल की टीम कभी भी दबाव से उबरती नहीं दिखी. हालांकि पहले हाफ में आइजोल ने भी गोल करने के कई असफल प्रयास किए. जो जोहेरलियाना और रोछारजेला ने  लगातार हमले बोले. रोछारजेला ने 12वें मिनट में गोल पोस्ट को निशाना बनाया, लेकिन गोलकीपर शंकर ने जबरदस्त उछाल लेते हुए उनका प्रयास नाकाम कर दिया. 34वें मिनट में उनका एक प्रयास गोलपोस्ट के पास से गुजर गया.



80वें मिनट में आया वो पल
मोहन बागान (Mohun Bagan) ने दूसरे हाफ में अधिक आक्रामक खेल दिखाया. आखिरकार 80वें मिनट में वो लम्हा आया जिसने मोहन बागान के खिलाड़ियों और समर्थकों के चेहरों पर खुशी बिखेर दी. बीतिया ने तेजी से आइजोल के गोलपोस्ट की ओर गेंद लेकर दौड़ लगाई और आखिरी पलों में बाबाद दियावारा को पास दे दिया. हालांकि कसाग्गा के पास गेंद को दियावारा तक पहुंचने से रोकने का मौका था, लेकिन वो ऐसा कर नहीं सके. मगर जब गेंद सेनेगल के स्ट्राइकर के पास पहुंच गई तो गोल होना लगभग तय ही था. और इसमें कहीं कोई गलती हुई भी नहीं.

विराट कोहली की कमाई का हुआ खुलासा, भारतीय कप्तान के पास अब इतने अरब रुपये

सचिन तेंदुलकर के फैसले से नाखुश वीरेंद्र सहवाग, मैच के बाद दे डाला बड़ा बयान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 11, 2020, 10:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading