National Open Athletics: रिकॉर्ड टाइमिंग के साथ अंजलि ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए किया क्वालिफाई

अंजलि (Anjali Devi) वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप (World Athletics Championship) में अब तक क्वालिफाइंग स्तर हासिल करने वाली एकमात्र भारतीय हैं

भाषा
Updated: August 30, 2019, 12:10 AM IST
National Open Athletics: रिकॉर्ड टाइमिंग के साथ अंजलि ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए किया क्वालिफाई
अंजलि सिंह ने पिछले साल सिंतबर में 400 मीटर में 51.79 का समय निकाला था
भाषा
Updated: August 30, 2019, 12:10 AM IST
हरियाणा की अंजलि देवी ने चोट के बाद प्रतिस्पर्धी दौड़ में शानदार वापसी करते हुए गुरुवार को 59वीं राष्ट्रीय अंतरराज्यीय एथलेटिक्स चैंपियनशिप की महिला 400 मीटर दौड़ में गोल्ड मेडल जीता.

अंजलि ने 51.53 सेकेंड के निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ गुजरात की सरिताबेन गायकवाड़ (52.96 सेकेंड) और केरल की जिस्ना मैथ्यू (53.08 सेकेंड) को पछाड़ा. बीस साल की अंजिल पिछले साल सितंबर में भुवनेश्वर में राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स में 51.79 सेकेंड के प्रयास के साथ पहले ही विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालिफाई कर चुकी हैं. महिला 400 मीटर के लिए विश्व चैंपियनशिप का क्वालिफाइंग स्तर 51 .80 सेकेंड है. अंजलि इस स्पर्धा में अब तक क्वालिफाइंग स्तर हासिल करने वाली एकमात्र भारतीय हैं.

चोट के बाद अंजलि की शानदार वापसी

टखने की चोट के बाद वापसी कर रहे अंजलि ने गोल्ड मेडल जीतने के बाद कहा, ‘फेडरेशन कप (मार्च में) के बाद से प्रतिस्पर्धी दौड़ में हिस्सा नहीं लेने के कारण मुझे पता था कि फाइनल में मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.’ चार दिवसीय प्रतियोगिता के तीसरे दिन राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी के अधिकारी खिलाड़ियों के डोप नमूने एकत्रित करने के लिए पहुंचे. पहले दो दिन इनकी गैरमौजूदगी से अटकलें लगाई जा रही थी कि राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी शायद चैंपियनशिप के दौरान नमूने लेने के लिए किसी को ना भेजे.

मैराथन विशेषज्ञ केरल के गोपी थोनाकल ने 30 मिनट 52.75 सेकेंड के समय के साथ उत्तर प्रदेश के अर्जुन कुमार और गोवा के विक्रम बंगरिया को पछाड़कर 10000 मीटर की दौड़ जीती. एल सूरिया और 5000 मीटर की विजेता पारूल चौधरी की गैरमौजूदगी में उत्तर प्रदेश की फूलन पाल ने महिला 10000 मीटर दौड़ जीती. ऊंची कूद में महाराष्ट्र के सर्वेश कुशारे ने 2 .23 मीटर के साथ स्वर्ण मेडल जीता. उन्होंने केरल के जियो जोस (2.21 मीटर) और कर्नाटक के बी चेतन (2.19 मीटर) को पछाड़ा.

विश्व विश्वविद्यालय खेलों की स्वर्ण मेडल विजेता दुती चंद ने 100 मीटर सेमीफाइनल में 11 .34 सेकेंड का समय लिया. उन्हें अगर विश्व चैंपियनशिप का 11 .24 सेकेंड का क्वालीफाइंग स्तर हासिल करना है तो शुक्रवार को फाइनल में इससे बेहतर प्रदर्शन करना होगा. पुरुष 100 मीटर सेमीफाइनल में हरियाणा के 19 साल के नुजरत ने 10 .51 सेकेंड का सर्वश्रेष्ठ समय निकाला.

Sports Awards: खेल दिवस के मौके पर सम्मानित हुए यह सितारे
Loading...

जिंदगी के संघर्षों को मात देते हैं इन खिलाड़ियों के हौसलें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 11:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...