National Shooting Trials: 10 मीटर एयर राइफल में चूकने के बाद अंजुम मोद्गिल ने जीता गोल्ड

भाषा
Updated: September 12, 2019, 10:34 PM IST
National Shooting Trials: 10 मीटर एयर राइफल में चूकने के बाद अंजुम मोद्गिल ने जीता गोल्ड
बुधवार को महिला 10 मीटर एयर राइफल में पदक जीतने में नाकाम रही थी अंजुम मोद्गिल

तरूण यादव (Tarun Yadav) ने डा. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज (Karni Singh Shooting Range) में पुरुष 50 मीटर राइफल प्रो स्पर्धा जीती जबकि अनु राज (Anu Raj) सिंह ने महिला 25 मीटर पिस्टल (स्पोर्ट्स पिस्टल) का खिताब जीता

  • भाषा
  • Last Updated: September 12, 2019, 10:34 PM IST
  • Share this:
वर्ल्ड चैंपियनशिप (World Championship) की सिल्वर मेडलिस्ट विजेता अंजुम मोद्गिल (Anjum Mudgil) ने गुरुवार को राष्ट्रीय निशानेबाजी (National Shooting) ट्रायल में महिला 50 मीटर राइफल प्रोन का खिताब जीत लिया.

तरूण यादव (Tarun Yadav) ने डा. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में पुरुष 50 मीटर राइफल प्रो स्पर्धा जीती जबकि अनु राज सिंह ने महिला 25 मीटर पिस्टल (स्पोर्ट्स पिस्टल) का खिताब जीता.

बुधवार को महिला 10 मीटर एयर राइफल में पदक जीतने में नाकाम रही अंजुम ने गुरुवार को प्रोन में 619.4 अंक के साथ गोल्ड मेडल जीता. उन्होंने पूर्व विश्व चैंपियन तेजस्विनी सावंत को पछाड़ा जो 618 . 9 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहीं.

राही सरनोबत क्वालिफिकेशन में शीर्ष पर

पुरुष प्रोन स्पर्धा में दिल्ली के तरूण यादव ने 623.9 अंक के साथ खिताब जीता. आज के एकमात्र ओलिंपिक इवेंट फाइनल में अनु राज सिंह ने फाइनल में 37 के स्कोर के साथ खिताब अपने नाम किया. वह एशियन गेम्स की चैंपियन राही सरनोबत से काफी आगे रही जिन्होंने 29 अंक के साथ दूसरा स्थान हासिल किया.

राही हालांकि क्वालिफिकेशन में 588 अंक के साथ शीर्ष पर रही थी. भारतीय नौसेना के नीरज कुमार ने जूनियर पुरुष प्रोन इवेंट जीती जबकि आयुषी पोद्दार ने जूनियर महिला खिताब जीता. तनु रावल जूनियर महिला 25 मीटर पिस्टल में शीर्ष पर रहीं.

भारत को दिला चुकी हैं ओलिंपिक कोटा
Loading...

अंजुम उन पांच शूटर्स में शामिल है जिन्होंने देश के लिए 2020 ओलिंपिक कोटा हासिल किया है.  फरवरी महीने में दिल्ली में हुए आईएसएसएफ वर्ल्ड कप में 252.9 के वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता था. पिछले साल गोल्डकोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने सिल्वर मेडल जीता था वहीं ग्लासगो में उनके नाम गोल्ड था.

शुभमन की वजह से इन दो खिलाड़ियों से नाइंसाफी, 21 शतक लगाने वाले को भी मौका नहीं

पद्म सम्मान के लिए इस बार भेजे गए बस महिला एथलीटों के नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 10:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...